दलित छात्र की हत्या से नाराज़ मायावती ने उठाया बड़ा क़दम

0
1058

लखनऊ :संगमनगरी इलाहाबाद में एलएलबी छात्र दिलीप कुमार सरोज की हत्या पर बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती बेहद दुखी हैं। उन्होंने छात्र के साथ इस घटना की निंदा करने के साथ ही इलाहाबाद एक प्रतिनिधिमंडल भेजा है। यह प्रतिनिधिमंडल छात्र के गांव प्रतापगढ़ भी जाएगा।

मायावती ने कहा कि शोषित-पीड़ित दलित समाज के एक होनहार एलएलबी छात्र की हत्या पूरे समाज के लिये बड़े दुःख एवं चिंता की बात है। इस घटना से पूरा समाज आहत हुआ है। उन्होंने कहा कि इलाहाबाद में दलित छात्र की इस प्रकार नृशंस हत्या वास्तव में उत्तर प्रदेश के बीजेपी शासन में कोई अकेली या नई घटना नहीं है। ऐसी दर्दनाक घटनाएं लगातार घट रही हैं और इनके लिये कोई और नहीं बल्कि बीजेपी की संकीर्ण, जातिवादी एवं नफरत की राजनीति पूरी तरह से दोषी है।

घटना के संबंध में सिटी एसपी सिद्धार्थ ने बताया कि सरोज के दोस्त समीर ने शुक्रवार की शाम को एक रेस्टोरेंट में पार्टी आयोजित की थी. खाने का ऑर्डर देकर सभी रेस्टोरेंट की सीढ़ियों पर बैठ गये. उसी समय विजय शंकर सिंह अपने दोस्तों के साथ रेस्टोरेंट पहुंचा. सीढ़ी पर चढ़ने के समय विजय का पैर सरोज से टकरा गया. इसी बात को लेकर दोनों के बीच शुरू हुई तू-तू, मैं-मैं, मारपीट में बदल गयी. दोनों पक्ष के सदस्यों ने एक-दूसरे पर हमला बोल दिया. इसी दौरान एक कुर्सी वेटर मुन्ना चौहान को लग गयी, इसके बाद उसने सरोज को रड से मारना शुरू कर दिया. सरोज ने भागने की कोशिश की, लेकिन वह बेहोश होकर सीढ़ियों पर ही निढाल हो गया. बेहोश होकर गिरने के बावजूद आरोपित उसे रड और पत्थर से मारते रहे. रेस्टोरेंट के मालिक ने किसी तरह घायल को स्वरूपरानी अस्पताल में भरती कराया, जहां डॉक्टरों ने उसे कोमा (ब्रेन डेड) में होना बताया. बाद में सरोज के भाई ने उसे निजी अस्पताल में भरती कराया, जहां उसकी मौत हो गयी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here