राहुल-तेजस्वी के लंच पर इतना हंगामा है क्यों बरपा ?

मनीष कुमार   कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पिछले कुछ दिनों में दो निर्णय लिए. एक उन्होंने झारखंड में पार्टी की कमान एक ऐसे व्यक्ति डॉक्टर अजय कुमार […]

जिम्बाब्वे से समझे देश की तबाही!

 हरि शंकर व्यास   मगर फिलहाल भारत को दिमाग से बाहर रखते हुए! जिम्बाब्वे और राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे मेरे लिए दिलचस्पी का विषय इसलिए है क्योंकि चालीस साल पहले पत्रकारिता […]

हम नहीं,हमारे भारत के ये 2,464 बकलोल लोग

  रविश कुमार   2,464 लोग वो लोग हैं जो पीयू रिसर्च में शामिल हुए हैं। यही भारत हैं। भारत की आत्मा गांवों में नहीं, सर्वे के सैंपल में रहती […]

पराक्रमी स्वर का अजेय नाम:कृष्णा सोबती

निबंधकार:श्वेता पांडेय   जिन्हें भारतीयता का कोई बोध ही नहीं है, वे भारत के लेखकों को भारतीयता सिखाएं और उनके विरोध को “मैन्युफैक्चर्ड” बताएँ, इससे बड़ी कोई विडम्बना हमारे समय […]

क्या भारतीय चाहते हैं एक तानाशाह?

कुलदीप कुमार पीयू रिसर्च के सर्वे के नतीजे चौंकाने वाले तो हैं ही, बहुत अधिक विश्वसनीय भी नहीं हैं. खासकर इसलिए क्योंकि इसके नतीजे 38 देशों के केवल लगभग 42,000 […]

राम मंदिर से भी बड़ा है, हिंदू राष्ट्र का ब्रह्मास्त्र!

पुष्परंजन   पिछले कुछ वर्षों से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में एक चिंतन तो चल रहा है कि देश की सियासत के वास्ते दूसरी पांत तैयार हो, जो युवा होने के […]

अर्थव्यवस्था का हाल:बिल्ली के गले में घंटी बांध गये यशवंत सिन्हा

 प्रेम कुमार  एसोसिएट प्रोफेसर,आइएमएस,नोएडा बीजेपी के भीतर नीचे से ऊपर तक नेताओं में डर का माहौल है. लेकिन, जिस ताकतवर बिल्ली से ख़तरा है उसके गले में घंटी बांधे कौन? […]

आर्थिक मंदी सबसे बड़ी कमजोरी

तवलीन सिंह पिछले सप्ताह जब भाजपा के घर के भेदी यशवंत सिन्हा ने वित्त मंत्री पर हमला बोला, तब मुझे इंदिरा गांधी का एक वक्तव्य याद आया। आपातकाल हट जाने […]

खामोशी तोड़ती लड़कियां

पत्रलेखा चटर्जी हर बादल में आशा की एक किरण छिपी रहती है। बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में छात्राओं का हालिया विरोध प्रदर्शन भी भारत में स्वागतयोग्य बदलते रुझान का संकेत […]

यह कैसा स्वाभिमान!

अभिमन्यु शितोले     महाराष्ट्र की राजनीति में ‘स्वाभिमान’ की खूब चर्चा होती है। शिवसेना से लेकर बीजेपी तक हर पार्टी अपने-अपने स्वाभिमान का दंभ भरती है। नारायण राणे ने […]

गांधी जयंती : स्‍वच्‍छ भारत दिवस

सार्वजनिक स्‍वच्‍छता एक ऐसा विषय था, जिसके बारे में महात्‍मा गांधीजी की जीवन पर्यन्‍त  गहरी दिलचस्‍पी रही। गांधीजी ने भारतीयों को स्‍वच्‍छता के महत्‍व के बारे में प्रेरित करने के लिए […]

उलटी गिनती शुरू हो गई है, नरेंद्र भाई!

पंकज शर्मा   राज-सिंहासन पर नरेंद्र भाई मोदी के पांच सौ के आसपास ही दिन-रात बाकी बचे हैं और गिनती उलटी शुरू भी हो गई। मुझे तो 22 मई 2014 […]

मुंबई भगदड़ : यह महज हादसा नहीं, गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज हो

सुनील सिंह   एलफिंस्टन स्टेशन के पादचारी पुल (फुटओवर ब्रिज) पर शुक्रवार को हुई भगदड़ में 22 लोगों की मौत के बाद दादर पुलिस स्टेशन में एडीआर यानी कि दुर्घटना […]

नवरात्रि में नारी शक्ति की यह कैसी पूजा ?

रविश कुमार     नवरात्रि  में हमारा समाज कन्याओं की पूजा करता आया है. उन्हें भोजन पर आमंत्रित किया जाता है. चरण धोकर स्वागत किया जाता है और तिलक के […]

जर्मन संसद बुंडेसटाग के लिए आज मतदान

बर्लिन :जर्मनी के चुनावी समर में अंतिम फैसले की घड़ी आ गयी है. जर्मनी के छह करोड़ से ज्यादा लोग 42 पार्टियों के 4828 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करने […]

किसके साथ हैं, बलात्कारी के या साध्वियों के

      रवीश कुमार   निर्भया के लिए रायसीना हिल्स को जंतर मंतर में बदल देने वाली हिन्दुस्तान की बची हुई बेटियाँ नोट करें कि दो साध्वी ने कैसे […]

कब तक छुपेगी बेरोज़गारी, फर्ज़ी सरकारी आंकड़ों से

रवीश कुमार   हाल के दिनों में बेरोज़गारी बढ़ी है। यह अच्छी ख़बर है क्योंकि इससे पता चलता है कि श्रम भागीदारी दर ( labour participation rate) बढ़ रही है। […]

स्वतंत्रता के सत्तर साल- एक नई ऊर्जा

रविशंकर प्रसाद   पंद्रह अगस्त का पावन दिन हमें यह अवसर देता है कि हम देश की वर्तमान परिस्थिति, उपलब्धि और चुनौतियों को समझें और भविष्य के लिए एक नया […]

आजादी नहीं 70 साल के बैर की सालगिरह

शामिल शम्स     वह एक क्रूर बंटवारा था जिसके नतीजे में करीब 10 लाख लोग मारे गए और उससे कई गुना ज्यादा लोग अपनी जड़ों से उखड़ गये, बिखर […]

सामाजिक शक्ति से ही होगा राष्ट्र निर्माण

हृदयनारायण दीक्षित   इतिहास और वर्तमान का संवाद विवेक देता है। 14 अगस्त, 1947 से 14 अगस्त, 2017 तक भारत ने 70 वर्ष की यात्रा पूरी की है। 14 अगस्त, […]

कितना आसां है भारत में देशभक्त होना…

नीरेंद्र नागर   देश में देशभक्ति का उबाल आया हुआ है। जगह-जगह तिरंगे फहराए जा रहे हैं। वड़ोदरा में 67 मीटर लंबा तिरंगा फहराया गया तो हासन में 3500 फीट […]