दलित छात्रा को जिंदा जलाने से MP के दलितों में डर का माहौल

0
25

भोपाल :मध्य प्रदेश सरकार दलित उत्पीडन को रोकने के दावे विफल साबित हो रहे है. आये दिन प्रदेश में दलितों पर अत्याचार के मामले सामने आ रहे है.ताजा मामला राजगढ़ के खुजनेर थाना क्षेत्र के सुस्तानी गांव का है. जहाँ एक 12 वर्ष की दलित बालिका से घर में घुसकर बलात्कार का प्रयास किया गया. जब बच्ची ने विरोध किया तो आरोपी गोपाल राजपूत ने उसके ऊपर केरोसिन डालकर जिंदा जलाने की कोशिश की.

पुलिस ने बताया कि घटना रविवार की है, जब छात्रा अकेली थी और मौके का फायदा उठा कर सिरफिरे ने छात्रा से रेप करने की कोशिश की। छात्रा ने इसका विरोध किया तो आरोपी ने उस पर केरोसिन छिड़क कर आग लगा दी। छात्रा की हालत गंभीर बताई जा रही है, हालांकि आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है।मध्यप्रदेश में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों की संख्या लगातार बढ़ रही है और इस वारदात ने एक बार फिर इस काले सच को बेनकाब कर दिया है।

जानकारी के मुताबिक, 12 साल की छात्रा रविवार दोपहर घर में अकेली थी। नाबालिग की विधवा मां खेत पर गई हुई थी। इस दौरान गांव के ही एक शख्स गोपाल राजपूत ने घर में घुसकर जबरन छात्रा का बलात्कार करने की कोशिश की। इस दौरान लड़की अपने बचाव के लिए चिल्लाने लगी तो आरोपी उस पर केरोसिन डालकर आग लगाकर मौके से फरार हो गया। पीड़िता की चीखें सुन कुछ देर बाद उसका भाई वहां आया और उसे इलाज के लिए अस्पताल ले गया। यहां डॉक्टरों ने लड़की को 40 फीसदी जला बताया। पुलिस के मुताबिक, आरोपी पर विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।लेकिन वहीँ दूसरी तरफ इस घटना के बाद से मप्र के दलितों में और डर का माहौल पैदा होता दिखाई दे रहा है ,चूँकि वहां की सरकार लगातार हो रहे दलित उत्पीड़न के खलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here