दिल्ली एमसीडी स्कूल के छात्रों को हिंदू-मुस्लिम के नाम पर बांट दिया गया

0
29

नई दिल्ली: क्या आपने कभी सुना है कि किसी स्कूल में बच्चों को उनके मजहब के आधार पर बांट दिया जाए और हिन्दू मुस्लिम बना दिया जाए? दिल्ली के वजीराबाद इलाके के उत्तरी दिल्ली नगर निगम के स्कूल में प्रिंसिपल ने यही काम किया है. प्रिंसिपल ने हिन्दू बच्चों के अलग और मुसलमान बच्चों के अलग सेक्शन बना दिए हैं.बता दें की धर्म आधारित क्लास की बात सामने आने के बाद नॉर्थ एमसीडी ने स्कूल के इनचार्ज को निलंबित कर दिया. एमसीडी के मेयर आदेश गुप्ता ने कहा कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम के स्कूलों में जाति, समुदाय या धर्म के आधार पर समाज को बांटने की कोशिश को किसी भी स्तर पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. एमसीडी संविधान के सिद्धांतों को मानता है.

समाज के बंटवारे को स्वीकार नहीं किया जा सकता.साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि स्कूल के इनचार्ज को निलंबित कर दिया गया है. शुरुआती जांच के आधार पर ऐसा किया गया है और जांच होने के बाद उन पर इससे बड़ी कार्रवाई की जा सकती है.वजीराबाद गांव के गली नंबर 9 में स्थित इस एमसीडी बॉयज स्कूल की 9 अक्टूबर की अटेंडेंस एक हद तक शिक्षकों के उन आरोप को सही बता रही है, जिसमें कहा गया है कि हिंदू-मुस्लिम छात्रों को अलग-अलग सेक्शन में पढ़ाया जाता है. हालांकि सारे सेक्शन ऐसे नहीं हैं जिसमें सिर्फ हिंदू या मुस्लिम छात्र हैं.

कुछ सेक्शन ऐसे हैं जिसमें दोनों धर्मों के छात्र एक साथ पढ़ते हैं.इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, स्कूल इंचार्ज सीबी सिंह सेहरावत ने इस बात से इनकार कर दिया है कि छात्रों को धर्म के आधार पर अलग-अलग सेक्शन आवंटित किया गया है. उन्होंने कहा कि सेक्शन में बदलाव एक प्रक्रिया है जो सभी स्कूलों में होती है.सेहरावत ने कहा कि यह प्रबंधन का निर्णय था कि हम स्कूल में शांति, अनुशासन और अच्छा सीखने के माहौल को बनाए रखने के लिए सबसे अच्छा प्रयास क्या कर सकते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि छात्र कभी-कभी लड़ते भी हैं.

जब उनसे यह पूछा गया कि क्या छात्र धर्म के आधार पर झगड़ा करते हैं? इस पर उन्होंने कहा कि बेशक बच्चों की उम्र काफी कम हैं और वो धर्म के बारे में नहीं जानते हैं, लेकिन उनका कई चीजों के प्रति झुकाव है. कुछ बच्चे शाकाहारी हैं, इसलिए मतभेद हो सकते हैं. उन्होंने कहा कि हमें सभी शिक्षकों और छात्रों के हितों की देखभाल करने की आवश्यकता है.

कक्षा IA: 36 हिंदू, IB: 36 मुस्लिम,,IIA: 47 हिंदू, IIB: 26 मुस्लिम और 15 हिंदू, IIC: 40 मुस्लिम,,IIIA: 40 हिंदू, IIIB: 23 हिंदू और 11 मुस्लिम, IIIC: 40 मुस्लिम, IIID: 14 हिंदू और 23 मुस्लिम,,IVA: 40 हिंदू, IVB: 19 हिंदू और 13 मुस्लिम, IVC: 35 मुसलमान, IVD: 11 हिंदू और 24 मुस्लिम,,VA: 45 हिंदू, VB: 49 हिंदू, VC: 39 मुस्लिम और 2 हिंदू, VD: 47 मुसलमान।एमसीडी स्कूल केवल कक्षा 5वीं तक शिक्षा प्रदान करते हैं और शिक्षा के अधिकार अधिनियम के अनुसार, प्रत्येक अनुभाग में प्राथमिक स्तर पर 30 छात्र होने चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here