मस्जिद सील करने के खिलाफ धरना देने वाले मुसलमानों की धमकी ने प्रशासन के कान खड़े कर दिए

0
790

गरुग्राम : गुडगाँव के शीतला माता कॉलोनी में मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकरों पर मचे विवाद के एक हफ्ते बाद, बुधवार को गुडगाँव नगरनिगम ने मस्जिद को सील कर दिया गया.इस मामले में एमसीजी कमिश्नर ने कहा कि यह भारतीय वायुसेना (आईएएफ) गोला बारूद डिपो के बहुत करीब है. कुछ दिन पहले क्षेत्र में कुछ हिन्दू लोगों ने लाउडस्पीकरों की आवाज़ से परेशानी होने के कारण आपत्ति उठाई थी, जिसके कुछ दिन बाद नगर निगम द्वारा ये कदम उठाया गया है.एमसीजी आयुक्त यशपाल यादव ने कहा कि पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के आदेश के मुताबिक मस्जिद को बंद किया गया है, क्योंकि कानून के अनुसार आईएएफ डिपो के 300 मीटर के दायरे के अंदर किसी भी तरह का निर्माण प्रतिबंधित है, और मस्जिद उसी दायरे में आती है, इसीलिए उसे सील किया गया है.

अब खबर यह आ रही है की गुरुवार को लोगों ने कॉलोनी में धरना दिया है, जिसमें भारी संख्या में महिलाएं भी शामिल थीं। गुरुवार को लोगों ने खाली प्लॉटों पर नमाज पढ़ी। शुक्रवार दोपहर 12:30 बजे तक सील नहीं खोलने पर लोगों ने आत्मदाह की चेतावनी दी है। उधर पुलिस और प्रशासन ने एहतियातन सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। गुरुवार को तमाम लोग धरने पर बैठे रहे और लोगों ने खुले प्लॉट में नमाज पढ़ी। हाजी अलीन खान ने कहा कि उनकी बात सुनने के लिए पुलिस व प्रशासन का एक भी अधिकारी नहीं आया है।

हालांकि कई राजनीतिक व सामाजिक संगठनों ने उनसे संपर्क किया। उन्होंने आरोप लगाया कि कॉलोनी में कई जगह निर्माण कार्य चल रहा है, उसको सील नहीं किया गया। चार साल पहले जगह खरीदी गई थी और खाली प्लॉट पर नमाज पढ़ना शुरू किया गया था। इसके बाद टीन शेड डाला गया और चंदा कर बिल्डिंग बनवाई गई। इन लोगों का कहना है कि आज जुम्मे की नमाज़ से पहले मस्जिद को नहीं खोला गया तो वो आत्मदाह करेंगे. 3 दिन पहले निगम ने इस मस्जिद को सील किया था. वहीं इन हालातों को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.वहीँ मुस्लिम एकता मंच के अध्यक्ष हाजी शहजाद खान ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि एमसीजी ने ‘‘जानबूझकर’’ यह ‘‘आक्रोशित करने वाला’’ कदम उठाया।

खान ने कहा, ‘‘हम हरियाणा की भाजपा सरकार द्वारा सर्मिथत एमजीसी की मंशा समझते हैं। वे चाहते हैं कि हम गैर-कानूनी काम करें ताकि वे इसे बड़ा मुद्दा बना सकें। इस कदम पर हमें ऐतराज है, लेकिन हम कानून अपने हाथ में नहीं लेंगे और मूक प्रदर्शन के लिए यहां बैठेंगे।’’ एमसीजी के एक प्रवक्ता ने सफाई दी कि शीतला कॉलोनी स्थित मस्जिद चार साल पुरानी है और इसलिए एमसीजी ने दावा किया कि यह ढांचा नवनिर्मित है और कानून का उल्लंघन है। प्रवक्ता ने बताया कि नगर निगम ने डिपो के 300 मीटर के दायरे में आने वाले 11 अन्य नवनिर्मित ढांचों को भी सील किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here