जानिए 2017 में भारतीय जवानों ने कितने पाक सैनिकों को किया ढ़ेर

0
56

नई दिल्ली :भारतीय सेना की तरफ से 2017 के रणनीतिक ऑपरेशन में पाकिस्तान को जबरदस्त नुकसान झेलना पड़ा और उसके 138 जवान मारे गए। हालांकि, सरकार के खुफिया सूत्रों के मुताबिक, जम्मू कश्मीर में सीमा पार से फायरिंग के बाद जवाबी कार्रवायी और रणनीतिक ऑपरेशन में जहां पाकिस्तान को अच्छा खासा नुकसान हुआ तो वहीं दूसरी तरफ इसी दौरान भारतीय सेना के 28 जवान भी नियंत्रण रेखा के पास शहीद हो गए।

भारतीय सेना की तरफ से 2017 के रणनीतिक ऑपरेशन में पाकिस्तान को जबरदस्त नुकसान झेलना पड़ा और उसके 138 जवान मारे गए। हालांकि, सरकार के खुफिया सूत्रों के मुताबिक, जम्मू कश्मीर में सीमा पार से फायरिंग के बाद जवाबी कार्रवायी और रणनीतिक ऑपरेशन में जहां पाकिस्तान को अच्छा खासा नुकसान हुआ तो वहीं दूसरी तरफ इसी दौरान भारतीय सेना के 28 जवान भी नियंत्रण रेखा के पास शहीद हो गए।सूत्रों ने बताया कि 2017 में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर 28 भारतीय जवान शहीद हुए। वहीं 70 भारतीय जवान घायल हुए।भारतीय सेना ने कार्रवाई के दौरान पाकिस्तान की कई चौकियों को भी तबाह कर दिया।

आपको बता दें कि सीमा पर 2017 में साल भर उकसावे वाली कार्रवाई जारी रही है। पाकिस्तानी सेना लगातार सीजफायर का उल्लंघन करती रही है जिसका भारतीय सेना ने हर बार माकूल जवाब दिया। भारतीय सेना के प्रवक्ता अमन आनंद ने कहा, पाकिस्तानी सेना की तरफ से होने वाले हर सीजफायर उल्लंघन का भारत मुंहतोड़ जवाब देता है जो अब भी जारी है।आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक पाकिस्तान सेना की तरफ से साल 2017 में 860 बार सीजफायर तोड़ा गया है जबकि साल 2016 में यह आंकड़ा सिर्फ 221 था।सूत्रों के मुताबिक रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान सेना की नीति है कि वो अपने मरने वाले जवानों की संख्या को स्वीकार नहीं करता है। इसके लिए कारगिल युद्ध का भी हवाला दिया गया है जिसमें पाकिस्तान सेना को भारी नुकसान के सबूत देने के बाद भी उन्होंने इसे स्वीकार नहीं किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here