मोदी सरकार के मंत्री एम जे अकबर से ओवैसी ने कहा ”कुछ शर्म करो”

0
43

हैदराबाद: एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने बुधवार को एम जे अकबर पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों के बाद उन्हें केंद्रीय मंत्री परिषद से हटाए जाने की मांग की. भारत में ‘मी टू’ अभियान के जोर पकड़ने के साथ ही कुछ महिला पत्रकारों ने सामने आकर पूर्व संपादक और मौजूदा विदेश राज्य मंत्री अकबर पर पत्रकार रहने के दौरान यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है. ओवैसी ने कहा कि पीएम मोदी जल्द से जल्द एम जे अकबर को पद से हटाएं.

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुसलिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख ने ट्वीट किया, “ एम जे अकबर शर्म करिए! और आप तीन तलाक विधेयक पर बहस के दौरान संसद में खड़े होकर मुस्लिम महिलाओं के सशक्तिकरण और उनके उत्पीड़न को रोकने की बात करते हैं।गौरतलब है कि अकबर पर आरोप लगने के बाद कांग्रेस ने भी उनको मंत्रिमंडल से बाहर किए जाने की मांग की। कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता एस जयपाल रेड्डी ने संवाददाताओं से कहा, ‘मेरा मानना है कि एम जे अकबर को संतोषजनक स्पष्टीकरण देना चाहिए या फिर इस्तीफा देना चाहिए।

जब उनके साथ काम कर चुकी वरिष्ठ पत्रकारों ने आरोप लगाया है तो फिर वह पद पर कैसे बने रह सकते हैं।हैदराबाद से लोकसभा सांसद ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ”प्रधानमंत्री कार्यालय अगर सच में बेटी बचाओ में यकीन रखता है तो अपने इस मंत्री को हटाए.” बता दें कि यौन हिंसा के आरोपों में घिरे केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री और पूर्व पत्रकार एमजे अकबर से कांग्रेस ने भी इस्तीफे की मांग की है.

बता दें की मी टू कैंपेन’ के चलते कई महिलाओं की ओर से यौन उत्पीड़न के आरोप लगने के बाद विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर मुश्किल में पड़ते नजर आ रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक सरकार की ओर से उन्हें नाइजीरिया दौरे को जल्द खत्म कर गुरुवार तक वापस लौटने को कहा गया है। मीटू कैंपेन के तहत कई महिलाओं ने उन पर तमाम मीडिया संस्थानों में संपादक रहते हुए यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है।

पिछले तीन दिन में उन पर 9 महिलाएं आरोप लगा चुकी हैं। उधर, अभिनेता आलोक नाथ पर अब अभिनेत्री संध्या मृदुल और फिल्म ‘हम साथ-साथ हैं’ की एक क्रू मेंबर ने यौन शोषण के आरोप लगाए। एक दिन पहले ‘तारा’ सीरियल की राइटर-प्रोड्यूसर ने उन पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here