प्रधानसेवक स्वीडन और ब्रिटेन की पांच दिवसीय यात्रा पर आज होंगे रवाना, कई महत्वकांक्षिक योजनाओं को लेकर आशान्वित।

0
25
PM. Narendra Modi

(नयी दिल्ली): प्रधानसेवक आज स्वीडन और ब्रिटेन की पांच दिवसीय यात्रा पर जा रहे हैं। स्वीडन और ब्रिटेन की अपनी यात्रा से पहले प्रधानसेवक ने कहा कि वो व्यापार, निवेश और स्वच्छ ऊर्जा समेत अलग-अलग क्षेत्रों में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय साझेदारी को गहरा बनाने को लेकर आशान्वित हैं। अपनी यात्रा के पहले चरण में श्री मोदी स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम पहुंचेंगे जहां वो प्रधानमंत्री स्टेफान लोफवेन से व्यापक बातचीत करेंगे। नरेंद्र मोदी भारत नॉर्डिक सम्मेलन में हिस्सा भी लेंगे। गैरतलब है की वो भारत लौटने के दौरान 20 अप्रैल को बर्लिन में कुछ देर के लिए ठहरेंगे।

मोदी ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, ‘‘भारत और स्वीडन के बीच दोस्ताना रिश्ता है. हमारी साझेदारी लोकतांत्रिक मूल्यों और समावेशी नियमों की बुनियाद पर टिकी वैश्विक व्यवस्था पर आधारित है। स्वीडन हमारे विकास से जुड़ी पहल में एक मूल्यवान साझेदार है.’’

PM Narendra Modi

दोनों प्रधानमंत्री मंगलवार को द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। प्रधानमंत्री का स्वीडन के नरेश कार्ल सोलहवें गुस्ताफ से भी मिलने का कार्यक्रम है। नरेंद्र मोदी ने कहा, स्वच्छ प्रौद्योगिकियों, पर्यावरण हल, बंदरगाह आधुनिकीकरण, कोल्ड चेन, कौशल विकास और नवोन्मेष में नोर्डिक देशों की ताकत का लोहा विश्व मान चुका है। नोर्डिक क्षमता भारत के परिवर्तन के हमारे दिशादृष्टि में सटीक बैठती है।

मंगलवार को ब्रिटेन के लिए रवाना होंगे। ..
स्वीडन से मोदी मंगलवार को ही ब्रिटेन जाएंगे। लंदन में वह ब्रिटिश समकक्ष थेरेसा मे के साथ द्विपक्षीय भेंटवार्ता के अलावा राष्ट्रमंडल देशों के शासनाध्यक्षो की बैठक में हिस्सा लेंगे। श्री मोदी ने कहा, लंदन की मेरी यात्रा दोनों देशों को इस बढ़ती द्विपक्षीय साझेदारी में एक नई गति पैदा करने का एक मौका प्रदान करती है। मैं स्वास्थ्य,नवोन्मेष , डिजिटलीकरण, इलेक्ट्रिक मोबिलिटी, स्वच्छ ऊर्जा और साइबर सुरक्षा के क्षेत्रों में भारत ब्रिटेन साझेदारी बढ़ाने पर बल दूंगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here