तीन तलाक़ के खिलाफ अदालत का दरवाज़ा खटखटाना मुस्लिम महिला को पड़ा महंगा

0
177

बुलंदशहर:हलाला-बहुविवाह के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाने वाली शबनम रानी पर गुरुवार को दो बाइक सवारों ने तेजाब फेंक दिया। पीड़ित की हालत गंभीर बताई जा रही है। उन्हें बुलंदशहर में भर्ती किया गया है।आरोप है कि पीड़ित पर उनके देवर ने दोस्तों के साथ मिलकर हमला किया। इससे पहले रानी ने अगस्त में पति पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया था। शबनम दिल्ली की रहने वाली हैं। आठ साल पहले बुलंदशहर के जौलीगढ़ में उनका निकाह हुआ था। कुछ समय पहले पति ने उन्हें तलाक-ए-बिद्दत (एक बार में तीन तलाक) दे दिया था। शबनम का आरोप है कि पति अपने भाई से हलाला करवाकर उसे अपनाना चाहता था। इसके खिलाफ रानी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है।माना जा रहा है कि शबनम को सुप्रीम कोर्ट जाने की सजा मिली है।

बुलंदशहर के अगौता थाना क्षेत्र के गांव जोलीगढ़ निवासी हलाला, बहुविवाह और तीन तलाक के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाली महिला रानी शबनम पर आरोपी देवर ने तेजाब से हमला कर दिया। पीड़िता जिला अस्पताल में भर्ती है।जानकारी के अनुसार यह हादसा उस वक्त हुआ जब आज सुबह वह एसएसपी से शिकायत करने के लिए बुलंदशहर आ रही थी। बताया जा रहा है कि आरोपी देवर के साथ एक अन्य व्यक्ति भी बाइक पर था सवार। दोनों ने महिला पर एसिड से हमला कर दिया। महिला बर्न वार्ड में भर्ती है। उससे मिलने डीएम, एसएसपी , एसपी सिटी, नगर कोतवाल, सीओ सिटी पहुंचे हैं।

खबर है की पुलिस ने इस मामले में काफी तेजी दिखाई है। पुलिस ने शबनम पर तेजाब डालने वाले दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। शबनम का देवर मुजाहिद और पूर्व प्रधान हामिद गिरफ्तार किया गया है। इन्हीं पर तेजाब डालने का आरोप था ।एसिड अटैक की शिकार शबनम को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हलाला के खिलाफ जंग लड़ रही तीन तलाक पीड़िता शबनम रानी दिल्ली की रहने वाली है और उसकी ससुराल बुलंदशहर के अगौता थाना क्षेत्र के जौलीगढ़ में है। दिल्ली के ओखला निवासी शबनम का विवाह जौलीगढ़ में मुजम्मिल से हुआ था। शबनम के तीन बच्चे है.पुलिस ने घटना की तह तक पहुंचने के लिए महिला के कपड़ों को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here