होशियार :अपने टूथ ब्रश से आप दोबारा कोरोना के शिकार हो सकते हैं

0
201

Omicron वेरिएंट के बाद पैदा हुई कोरोना की तीसरी लहर ने दुनिया भर में हड़कंप मचा दिया है. यह लहर जानलेवा तो साबित नहीं हो रही है लेकिन बेहद संक्रामक है। ऐसे में जरूरी है कि लापरवाही न करें, क्योंकि तीसरी लहर भी उन लोगों को अपनी चपेट में ले रही है, जिन्हें वैक्सीन की दोनों डोज मिल चुकी हैं. कोरोना संक्रमण में ओरल हेल्थ का ध्यान रखना बहुत जरूरी है और अगर आप कोरोना से संक्रमित हैं या इससे उबर रहे हैं तो आपको अपना टूथब्रश जरूर बदलना चाहिए।

अगर आप कोरोना वायरस से ठीक होने के बाद अपना टूथब्रश नहीं बदलते हैं तो यह बहुत हानिकारक हो सकता है, यह उन लोगों को भी खतरे में डाल सकता है जो आपके साथ एक ही बाथरूम साझा करते हैं। आइए जानते हैं कि गुड़गांव के आर्टेमिस अस्पताल में दंत चिकित्सक डॉ अंजना सत्य जीत का क्या कहना है। वह कहती हैं कि वायरस प्लास्टिक की सतहों पर अधिक समय तक जीवित रह सकता है, इसलिए सुरक्षित रहने के लिए आपको अपना टूथब्रश बदलना चाहिए। यह न केवल आपको पुन: संक्रमण से बचाएगा, बल्कि परिवार के अन्य सदस्यों की भी रक्षा करेगा जो आपके साथ बाथरूम साझा करते हैं।

संक्रमण से बचाव के लिए नए ‘जीभ क्लीनर’ का भी इस्तेमाल करें। हम जानते हैं कि कोविड 19 हमारे इम्यून सिस्टम को नुकसान पहुंचाता है, लेकिन यह आपकी जीभ के स्वास्थ्य को भी प्रभावित करता है। इससे मुंह सूख सकता है और मसूड़ों में छाले हो सकते हैं।मौखिक स्वच्छता बनाए रखना महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह वायरस के प्रसार को बढ़ा सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, वायरस मुख्य रूप से संक्रमित व्यक्ति के मुंह से बूंदों के माध्यम से फैलता है, खासकर जब वह खांसता, छींकता, बात करता या हंसता है। संक्रमित सतहों को छूने से भी संक्रमण फैलना संभव है। इसलिए न केवल अपने हाथों को नियमित रूप से धोना और साफ करना महत्वपूर्ण है, बल्कि आपको समय-समय पर सतहों को भी कीटाणुरहित करना चाहिए।

Previous articleअमेरिकी इतिहास में पहली मुस्लिम महिला जज की नियुक्ति
Next articleमुस्लिम थी इस लिए मंत्रालय से मुझे निकल दिया गया :नुसरत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here