मेरी हत्या करने के लिए 11 लोगों को हैदराबाद भेजा गया है :अकबरुद्दीन ओवैसी

0
58

नई दिल्ली:एआईएमआईएम नेता अकबरूद्दीन ओवैसी ने दावा किया है कि उनकी जान को खतरा है। उन्होंने आरोप लगाया कि देश के अलग अलग भागों से 11 लोग उनकी ‘‘हत्या के लिए’’ हैदराबाद आए हैं। शुक्रवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए अकबरूद्दीन ने कहा कि उन्हें ‘‘धमकी भरे’’ पत्र मिले हैं और कुछ लोगों ने उन्हें फोन करके कहा है कि वे उनकी हत्या कर देंगे।शुक्रवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए अकबरूद्दीन ने कहा कि उन्हें ‘‘धमकी भरे’’ पत्र मिले हैं और कुछ लोगों ने उन्हें फोन करके कहा है कि वे उनकी हत्या कर देंगे।उन्होंने कहा, ‘‘वे फिर से कह रहे हैं कि वे हत्या कर देंगे…मुझे पत्र मिले हैं और फोन कॉल आए हैं कि अकबर ओवैसी… हम तुम्हे मार देंगे।’’ उन्होंने दावा किया कि उन्हें खबरें मिली हैं कि बनारस, इलाहाबाद और कर्नाटक से 11 लोग उन्हें मारने के लिए शहर में आए हैं। सात दिसंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव में चंद्रयानगुट्टा सीट से चुनाव लड़ रहे अकबरूद्दीन ने कहा, ‘‘मैं मरने को तैयार हूं। मैं अपने सीने पर गोली खाने को तैयार हूं, पीठ पर नहीं।’’ उन्होंने 30 अप्रैल 2011 की उस घटना को याद किया जब यहां एक समूह ने बारकास में एमआईएम कार्यालय के पास धारदार हथियारों और आग्नेयास्त्रों के साथ उन पर हमला किया था।

उन्होंने कहा कि तीन गोलियां लगने पर भी वह जीवित बच गये। एमआईएमआईएम प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी के छोटे भाई ने कहा, ‘‘तीन गोलियां लगने के बावजूद मैं नहीं मरा। क्या आपकी गोलियां मुझे मार पाएंगी?’’ मई 2014 में ‘‘उनकी हत्या’’ की साजिश के संदर्भ में अकबरूद्दीन ने आरोप लगाया कि कुछ ‘‘हमलावर’’ इस काम को अंजाम देने के लिए बेंगलुरू से यहां आए थे। मई 2014 में कर्नाटक पुलिस ने अकबरूद्दीन की हत्या की साजिश का कथित रूप से भंडाफोड़ किया था जिसके बाद चार लोगों को गिरफ्तार किया गया था। अकबरूद्दीन के दावों पर प्रतिक्रिया देते हुए एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि उन्हें इस संबंध में कोई शिकायत नहीं मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here