अज़हरुद्दीन ने बजाई बेल तो गंभीर के दिमाग में उठा तूफ़ान ,दिया बड़ा बयान

0
24

कोलकाता: भारत और वेस्टइंडीज के बीच टी20 सीरीज का पहला मैच रविवार को खेला गया. दोनों देशों के बीच पहली बार हो रही टी20 सीरीज के पहले मैच का आगाज ई़डन गार्डन में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने बेल बजाकर किया. यह बात टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज गौतम गंभीर को नागवार गुजरी और उन्होंने बीसीसीआई, सीओए सहित कैब पर सवाल उठा दिए.गौतम गंभीर ने कहा, ‘भारत आज ईडन में जीता गया लेकिन मुझे खेद है कि बीसीसीआई, CoA और सीएबी हार गए। ऐसा लगता है कि भ्रष्ट के खिलाफ नीति रविवार को छुट्टी पर है! मुझे पता है कि उन्हें एचसीए चुनाव लड़ने की इजाजत थी लेकिन फिर भी यह चौंकाने वाला है…घंटी बज रही है, उम्मीद है कि शक्तियां सुन रही हैं।अजहरुद्दीन ने भारत के लिए 99 टेस्ट और 334 वन डे इंटरनेशनल मैच खेले है, लेकिन उन पर मैच फिक्सिंग में शामिल होने का आरोप लगा। 2000 में बीसीसीआई ने उन्हें प्रतिबंधित कर दिया था। हालांकि, आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट ने 2012 में उन पर से प्रतिबंध हटा लिया था।

खेल के मैदान के बाद अजहर ने क्रिकेट में प्रशासनिक जिम्मेदारी संभालने की कोशिश की। जनवरी 2017 में वह हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन का चुनाव लड़ने की सोच रहे थे, लेकिन उन्हें रोक दिया गया। इसके पीछे कारण दिया गया कि बोर्ड द्वारा उनके प्रतिबंध की स्थिति पर स्पष्टता की कमी थी। हालांकि बाद बीसीसीआई ने उन्हें चुनाव लड़ने की इजाजत दे दी थी और यह भी स्पष्ट किया कर दिया था कि उनके ऊपर कोई प्रतिबंध नहीं है।बता दें कि साल 2000 में अजहरुद्दीन का नाम मैच फिक्सिंग में आया था जिसकी वजह से उन पर आजीवन बैन लगा दिया गया. हालांकि बाद में लंबी कानूनी लड़ाई के बाद कोर्ट ने उन्हें क्लीन चिट दे दी, लेकिन तब तक उनका करियर खत्म हो चुका था. इसके अलावा उन्होंने पिछले साल हैदराबाद क्रिकेट संघ (एचसीए) के अध्यक्ष पद के लिए नामांकन भरा था. हालांकि, वे अध्यक्ष नहीं बन पाए थे. अजहरुद्दीन साल 2009 में कांग्रेस के टिकट पर सांसद चुने जा चुके हैं.मोहम्मद अजहरुद्दीन ने भारत की ओर से 99 टेस्ट मैचों में 6215 रन बनाए हैं. वहीं 334 वनडे में अजहर के नाम 9378 रन दर्ज हैं. मोहम्मद अजहरुद्दीन भारत के सफलतम कप्तानों में से एक रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here