जानिए ,क्यों फ्लिपकार्ट के सीईओ बिन्नी बंसल ने दिया इस्तीफा

0
9

नई दिल्ली :देश की प्रमुख ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट को शुरू करने वाले बिन्नी बंसल भी अब इस कंपनी का हिस्सा नहीं रहें है। बिन्नी फिलहाल कंपनी के को-फाउंडर और ग्रुप सीईओ के पद पर थे। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मंगलवार को बिन्नी ने दुर्व्यवहार के आरोप के बाद अपने पद से त्यागपत्र दे दिया है। वालमार्ट द्वारा फ्लिपकार्ट का अधिग्रहण करने के बाद 6 माह से कम समय में बिन्नी ने कंपनी को अलविदा कह दिया है। वालमार्ट ने 9 मई 2018 को इस कंपनी में 77 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी। फ्लिपकार्ट ने कहा है उनका इस्तीफा तुरंत स्वीकार कर लिया गया है। वॉलमार्ट ने एक बयान में कहा है कि जांच में बिन्नी के खिलाफ सबूत नहीं मिले। हालांकि इस दौरान बिन्नी ने जिस तरह से व्यवहार किया इसमें खामियां मिली है। इसमें पारदर्शिता की कमी थी। इसी कारण उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया।अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट ने इसी साल फ्लिपकार्ट में निर्णायक हिस्सेदारी खरीदी है. फ्ल‍िपकार्ट का हेडक्वार्टर बेंगलुरु में है. इस साल वॉलमार्ट ने 16 अरब डॉलर में ये सौदा किया था. कंपनी की ओर से जारी बयान के अनुसार, फ्ल‍िपकार्ट की स्थापना से लेकर अब तक बिन्नी बंसल कंपनी का मुख्य हिस्सा थे. वह कंपनी के फाउंडर मेंबर हैं.उल्लेखनीय है कि बिन्नी बंसल और सचिन बंसल ने संयुक्त रूप से देश की सबसे बड़ी आनलाइन रिटेल कंपनी फ्लिपकार्ट की स्थापना की थी. बयान में कहा गया है कि बिन्नी ने तत्काल प्रभाव से अपने पद से इस्तीफा दे दिया है.बयान में कहा गया है, ‘‘बिन्नी ने इस्तीफा देने का फैसला फ्लिपकार्ट और वॉलमार्ट की ओर से स्वतंत्र रूप से गंभीर व्यक्तिगत कदाचार के आरोपों की जांच के बाद दिया है. हालांकि, उन्होंने इन आरोपों का खंडन किया है. हालांकि, यह हमारी जिम्मेदारी है कि यह जांच ठीक से और गहन तरीके से हो.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here