पहला डे-नाइट टेस्ट 22 नवंबर,एक सप्ताह में 72 गुलाबी गेंद तैयार करने का फरमान

0
1

नई दिल्ली :भारत और बांग्लादेश के बीच पहला डे-नाइट टेस्ट 22 नवंबर से कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेला जाएगा। यह मैच एसजी की गुलाबी गेंद से खेला जाएगा। इसके लिए बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने एसजी कंपनी से कहा है कि वह एक सप्ताह में 72 गुलाबी गेंद तैयार कर ले, ताकि दोनों टीम को प्रैक्टिस में भी कोई दिक्कत न हो .बीसीसीआई सूत्र के मुताबिक, ‘‘हां, बोर्ड अध्यक्ष ने एक टीम बनाई है, जो एसजी कंपनी के साथ तालमेल बनाए रखेगी। अध्यक्ष चाहते हैं कि अगले एक सप्ताह में पर्याप्त संख्या में गुलाबी गेंद तैयार हो जाए, जिससे दोनों टीमों को अभ्यास करने में कोई दिक्कत ना हो।’’

एसजी कंपनी के विक्रय और विपणन निदेशक पारस आनंद ने कहा, ‘बीसीसीआई ( BCCI) ने छह दर्जन गुलाबी गेंद मंगवाई है जो हम अगले सप्ताह तक दे देंगे. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में आपने देखा कि हमारी लाल एसजी गेंद में काफी सुधार आया है और हमने उतना ही रिसर्च गुलाबी गेंद पर भी किया है.’ भारतीय कप्तान विराट कोहली ने स्वीकार किया कि गेंद में सुधार आया है लेकिन कहा कि इसे कम से कम 60 ओवर तक चलना चाहिये.
बता दें कि बीसीसीआई और बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने ईडन गार्डन्स में 22 नवंबर से शुरू होने वाले टेस्ट मैच को गुलाबी गेंद से खेलने पर सहमति जताई है। इस दिन-रात टेस्ट मैच की तैयारियों में हालांकि बहुत कम समय बचा है। बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) को हालांकि गुलाबी गेंद से मैचों के आयोजन का अनुभव है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here