आतंकवाद के खात्मे के लिए दोहरा चरित्र को छोड़कर एकसाथ लड़ना होगा:राजनाथ सिंह

0
7

ताशकंद:रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) समिट के लिए तीन दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को उज्बेकिस्तान पहुंचे। उन्होंने शनिवार को समिट को संबोधित करते हुए कहा कि आतंकवाद गंभीर वैश्विक समस्या है। इसके खात्मे के लिए दोहरा चरित्र और अपवादों को छोड़कर सबको एकसाथ लड़ना होगा। साथ ही सभी अंतरराष्ट्रीय कानून और तंत्र को मजबूत करते हुए सख्ती से लागू करना होगा।राजनाथ ने आगे कहा, ‘आतंकवाद हमारे समाज को बाधित कर रहा है और हमारे विकास के प्रयास को कमजोर कर रहा है। इससे लड़ने के लिए जरूरी है कि हम सभी मौजूदा अंतरराष्ट्रीय कानूनों और मेकनिज्म को मजबूत करें।ताशकंद में चल रही है शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गेनाइजेशन की बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अफगानिस्तान के चीफ एग्जिक्युटिव डॉ. अब्दुल्ला अब्दुल्ला से मुलाकात की।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ताशकंद में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि ‘आर्थिक सहयोग हमारे लोगों के भविष्य को मजबूत करने और उन्हें बेहतर जीवन सुनिश्चित करने की नींव है। यह हमारे लिए महत्वपूर्ण महत्व का है।रक्षा मंत्री ने साथ ही कहा कि आतंकवाद हमारे समाजों को बाधित करने और हमारे विकासात्मक प्रयासों को कम करने के लिए जारी है। इस संकट से लड़ने का एक ही तरीका है, अपवादों या दोहरे मानकों के बिना, सभी मौजूदा अंतरराष्ट्रीय कानूनों और तंत्र को आतंकवादियों और उनके समर्थकों से निपटने के लिए मजबूत करना और लागू करना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here