दिल्ली हिंसा का असल गुनहगार कौन, ताहिर हुसैन या कपिल मिश्रा ?

0
33

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (AAP) के पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) और अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या, आगजनी और हिंसा फैलाने का केस दर्ज किया गया है. इन लोगों के खिलाफ दयालपुर थाने में केस दर्ज हुआ है. पुलिस ने बताया आईबी कर्मी अंकित शर्मा के पिता की शिकायत पर ताहिर हुसैन के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. क्राइम ब्रांच मामले की जांच करेगी. बता दें कि इससे पहले दिल्ली पुलिस ने ताहिर के घर को भी सील कर दिया था. ताहिर हुसैन के जिस घर को सील किया गया था उसमें उनकी फैक्ट्री भी है. बता दें कि दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) को लेकर आम आदमी पार्टी (AAP) के पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) पर आरोप है कि हिंसा भड़काने में उनका हाथ है. हिंसा में मारे गए इंटेलिजेंस ब्यूरो के कर्मी अंकित शर्मा के परिजनों ने कथित तौर पर Tahir Hussain पर हत्या करने का आरोप लगाया है.
इधर बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने कहा कि, मुझे आतंकवादी कहा जा रहा है, मुझे विलेन कहा जा रहा है। आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ताहिर के मुद्दे पर कुछ बोल नहीं रही हैं। मेरे भाषण में कुछ भी भड़काऊ नहीं था। उसमें हिंसा की कोई बात नहीं थी। जो लोग देश को बांटने की बात कर रहे हैं या फिर जिनके छत से पेट्रोल बम मिले हैं उनसे कोई सवाल नहीं किया जा रहा है।कपिल मिश्रा ने कहा कि, दिल्ली में हिंसा बंद होनी चाहिए। जिसके घर से हिंसा हो रही है, उनसे सवाल पूछने की जगह, रास्ता खोलने का निवेदन करने वालों को निशाना बनाया जा रहा है। फिलहाल यह मामला कोर्ट में विचाराधीन है और मैं इस पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता। कपिल मिश्रा ने दावा किया कि अंकित का हत्यारा ताहिर हुसैन हैं। वीडियो में ताहिर हुसैन को नकाबपोश लड़कों के साथ लाठी, पत्थर, गोलियां और पेट्रोल बम के साथ देखा जा सकता है। ताहिर हुसैन केजरीवाल और आप नेताओं से लगातार बात कर रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here