मज़लूमों की क़ानूनी मदद के लिए दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड ने बनाई Legal Help Desk

0
7

दिल्ली वक़्फ बोर्ड कमज़ोर ओर सताए हुवे लोगों की लगातार मदद कर रहा है,जो बोर्ड के मूल उद्देश्यों में शामिल है,इस और बोर्ड एक ओर नया क़दम उठाते हुवे पिछले दिनों दिल्ली व देश के अन्य विभिन्न छेत्रों में पुलिस प्रसाशन दुवारा सताय गए निर्दोष लोगों की क़ानूनी सहायता करने का बेड़ा उठाया है,दिल्ली वक़्फ बोर्ड के चेयरमैन अमानतुल्लाह खान के आदेश पर दिल्ली में मुफ़्त क़ानूनी सहायता देने के लिए 3 हेल्प डेस्क स्थापित की जारही हैं जहाँ बोर्ड के वकीलों की टीम उपलब्ध रहेगी और देश में नागरिक्ता क़ानून प्रदर्शनों के दौरान जिन निर्दोष वयक्तियों को पुलिस पुलिस प्रसाशन के अत्याचार या फ़र्ज़ी मुकदमों का सामना है उनकी क़ानूनी सहायता की जायेगी,बोर्ड की और से वकील निर्दोष लोगों को क़ानूनी सलाह व मशवरे के साथ साथ ज़रूरत मन्दों के मुकदमे भी मुफ़्त में लड़ेंगे,वक़्फ़ बोर्ड मुफ़्त क़ानूनी सहायता के लिए क़ानूनी हेल्प डेस्क बोर्ड के मेम्बर ओर सुप्रीम कोर्ट के वकील एडोकेट हिमाल अख़्तर की अगुवाई में स्थापित कर रहा है।हिमाल अख़्तर के अनुसार बीते कुछ दिनों में नागरिक्ता क़ानून को लेकर होने वाले प्रदर्शनों में बहुत सारे ऐसे निर्दोष वयक्तियों पर भी मुकदमे क़ायम करदिये गए हैं जिनका हिंसा तो दूर प्रदर्शनों से भी कुछ लेना देना नहीँ था और पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश में इतना बुरा हाल है कि अनगिनत निर्दोष लोगों पर जिनके पास अपना परिवार चलाने के लिए भी पैसे नहीं हैं उनपर पुलिस प्रसाशन ने संगीन धाराएं लगाकर मुक़दमें क़ायम करदिये हैं और उनके परिवार वाले बेहद परेशान हैं।उन्होंने आगे कहा कि बड़ी संख्यां में हमारे पास ऐसे लोग मदद के लिए संपर्क कर रहे हैं और अपनी बेगुनाही की आप बीती सुना रहे हैं।

हिमाल अख़्तर ने आगे बताया कि चेयरमैन अमानतुल्लाह खान का निर्देश है कि बेगुनाह ओर निर्दोष लोगों की हर संभव मदद की जाए जिसके लिए बोर्ड ने ज़ख़्मीयों का इलाज कराने से लेकर आर्थिक सहायता तक कई कदम उठाए हैं जिनकी चर्चा पूरे देश में होरही है, उन्होंने आगे बताया कि फ़िलहाल दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड ने 3 लीगल हेल्प डेस्क स्थापित की है, ओखला, जाफराबाद और बोर्ड के केंद्रीय कार्यालय दरया गंज में हेल्प डेस्क बनाई गई है जहाँ आफ़िस समय में बोर्ड के वकीलों की टीम उपलब्ध रहेगी और ज़रूरी क़ानूनी सलाह मशोरे के अलावा बोर्ड के खर्चे पर निर्दोष लोगों का केस भी लड़ेगी, हिमाल अख़्तर के अनुसार ऐसे वयक्ति जिनपर बीते दिनों पुलिस प्रसाशन ने झूठे मुकदमे क़ायम करदिये हैं या उनके परिजन जेलों में हैं या पुलिस हिरासत में है वो बोर्ड आफ़िस के अलावा ओखला और जाफराबाद में हेल्प डेस्क पर सम्पर्क कर सकते हैं जहाँ हर संभव सहायता की जायेगी।ज़रूरत मंद 9810456889( एडोकेट हिमाल अख्तर) 9811701081(एडोकेट शाइस्ता सिद्दीकी) पर भी संपर्क कर सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here