दिल्ली हिंसा..पीढ़ितों की सहायता के लिए दिल्ली वक़्फ बोर्ड का स्टाफ़ 24/7 ड्यूटी पर

0
5

दिल्ली के उत्तरपूर्वी छेत्र में कई दिन तक चली हिंसा से हज़ारों लोग पीड़ित हुवे हैं जिनके घर कारोबार समेत सब कुछ तबाह होगया ओर दंगाइयों ने उनका सब कुछ जलाकर राख कर दिया,दंगा प्रभावित छेत्रों के हज़ारों पीढ़ित किसी तरह अपनी जान बचाकर अपने घरों को छोड़कर वहाँ से निकले और दूसरे छेत्रों में जाकर पनाह ली।दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड ने ऐसे ही बे सहारा ओर भयभीत पीढ़ितों के लिए मुस्तफाबाद ईदगाह में एक विशाल केम्प लगाया है जहाँ बोर्ड का स्टाफ़ 24/7 पीढ़ितों की सहायता में लगा हुआ है।बोर्ड ने ईदगाह केम्प पर ही एक इन्तिज़ामी कार्यालय बनादिया है जिसके संचालन की ज़िम्मेदारी बोर्ड के सेक्शन अधिकारी निशाब अहमद खान पर है तफ़सील के अनुसार निशाब अहमद खान की अगुवाई में दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड स्टाफ़12 बारह घंटे की 2 शिफ्टों में अपनी ड्यूटी अंजाम दे रहा है साथ ही केम्प के अंदर ही पीढ़ितों को क़ानूनी सहायता के लिए लीगल डेस्क बनाई गई है जिसकी देख रेख बोर्ड के वकील वजीह शफ़ी कर रहे हैं

 एक मेडिकल डेस्क भी स्थापित की गई है जहाँ हर समय डॉक्टरों की टीम पीड़तों को मुफ़्त दवाएं उपलब्ध करा रही है और आवश्यकता पड़ने पर मरीजों को अस्पताल भी रेफेर किया जारहा है जिसके लिए बोर्ड की एम्बुलेंस केम्प पर ही उपलब्ध है। बोर्ड के सेक्शन अधिकारी हाफ़िज़ महफ़ूज़ ने बताया कि दंगे से प्रभावित पीड़तों के दिमाग़ पर काफ़ी गहरा असर है जिसको कम करने के लिए एक काउन्सलिंग डेस्क भी बनाई गई है जहाँ पीड़तों को दंगे की यादें भुलाकर आने वाले कल के लिए खुद को तय्यार करने के लिए मानसिक तौर पर तय्यार रहने में सहायता की जारही है।वक़्फ़ बोर्ड के चेयरमैन अमानतुल्लाह खान के निर्देश अनुसार बोर्ड स्टाफ़ की एक टीम केंद्रीय कार्यालय दरया गंज पर रिलीफ़ मटेरियल की पेकिंग का काम कर रही है जहां से ज़रूरत अनुसार दंगा प्रभावित छेत्रों में रेलीफ़ पैकेट्स भिजवाए जारहे हैं।अमानतुल्लाह खान ने बताया कि आज हम आटा दाल चावल चीनी चाय पत्ती रिफाइंड बिस्किट दूध और अन्य ज़रूरी सामग्री के 1500 पैकेट्स दंगा प्रभावित छेत्र करावल नगर, शिव विहार व अन्य जगहों पर भेज रहे हैं ताकि पीढ़ितों के घर का चूल्हा जल सके और कोई भूखा न सोय,उन्होंने आगे कहा कि जो लोगे दूर दराज़ अपने राज्यों में जाना चाहते हैं उनको सुरक्षित पहुंचाने में भी बोर्ड उनकी सहायता कर रहा है और ऐसे 20 से ज़्यादा लोगों के रेल टिकट कराकर उन्हें रास्ते के लिए खर्च देकर रवाना करने में मदद की गई है।अमानतुल्लाह खान के अनुसार लोग पीड़तों की सहायता के लिए वक़्फ़ बोर्ड कार्यालय में नकदी ओर सामान से दान भी कर रहे हैं जिन्हें तुरन्त पीढ़ितों तक पहुंचा दिया जाता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here