प्रियंका के आने से यूपी में लगा भाजपा को पहला झटका

0
59

लखनऊ: बीजेपी विधायक अवतार सिंह भड़ाना आज लखनऊ में प्रियंका गांधी की मौजूदगी में एक बार फिर कांग्रेस का दामन थाम लेंगे. चार बार लोकसभा सांसद रहे भड़ाना गुर्जर नेता माने जाते हैं. उनका हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश की कुछ सीटों पर खासा प्रभाव माना जाता है.वे कांग्रेस के टिकट से हरियाणा की फरीदाबाद लोकसभा सीट की दावेदारी कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि पूर्व सांसद रहे अवतार सिंह भड़ाना ने यूपी विधानसभा से इस्तीफा दे दिया है. वे आज शाम 4 बजे लखनऊ में कांग्रेस में शामिल होंगे.

गौरतलब है कि भड़ाना मुजफ्फरनगर के मीरपुर से बीजेपी विधायक हैं. भड़ाना फरीदाबाद से तीन बार और एक बार मेरठ लोकसभा क्षेत्र से सांसद रह चुके हैं. 2014 का लोकसभा चुनाव अवतार भड़ाना ने फ़रीदाबाद संसदीय सीट से कांग्रेस के टिकट पर लड़ा था, तब उनके सामने बीजेपी के कृष्णपाल गुर्जर विजयी हुए थे. इसके बाद उन्होंने 2017 का विधानसभा चुनाव बीजेपी के टिकट पर लड़ा और विजयी रहे. अवतार सिंह भड़ाना और फरीदाबाद से बीजेपी सांसद कृष्णपाल गुर्जर एक दूसरे पर हमेशा ही अंगुली उठाते रहे हैं. भड़ाना का बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने का असर यूपी के साथ पडोसी राज्य हरियाणा में भी देखने को मिल सकता है.


अवतार भड़ाना ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत चौधरी देवीलाल की पार्टी से की थी. देवीलाल की पार्टी आज इनेलो है, लेकिन 80 के दशक में कई बार नाम बदले गए. 1988 में अवतार भड़ाना ने पानीपत में गुर्जर समुदाय का एक सम्मेलन करवाया, जिसमें चौधरी देवीलाल भी पहुंचे थे. इससे खुश होकर देवीलाल ने उस समय भड़ाना को बिना चुनाव जीते ही अपनी सरकार में स्थानीय निकाय मंत्री बना दिया. 1988-89 में भड़ाना पहली बार हरियाणा सरकार में मंत्री बने.

इसके बाद भड़ाना ने पहली बार 1991 में फरीदाबाद लोकसभा सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा और जीते. इसके बाद फिर कांग्रेस के टिकट पर मेरठ लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा और संसद पहुंचे. 2004 और 2009 में भड़ाना ने दोबारा फरीदाबाद संसदीय सीट से चुनाव लड़कर जीत हासिल की, लेकिन 2014 में चली मोदी लहर में भड़ाना फरीदाबाद से चुनाव हार गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here