GoAir और SpiceJet के कर्मचारियों को कंपनी ने दिया बड़ा झटका

0
38

नई दिल्ली :कोरोना के कारण जारी लॉकडाउन के चलते एयरलाइन्स की हालत खराब है। 25 मार्च से ही सभी विमान ग्राउंडेड हैं, जिसके कारण एयरलाइन की कमाई तो बिल्कुल बंद है लेकिन सैलरी, मेंटेनेंस समेत कई तरह के चार्जेच लग रहे हैं। कंपनियों पर बोझ इतना भारी होने लगा है कि एयरलाइन्स ने सैलरी कट का फैसला किया है। गो एयर के 5500 कर्मचारियों में से ज्यादातर तीन मई तक बिना वेतन के अवकाश पर रहेंगे। वहीं स्पाइसजेट ने कहा कि अप्रैल की उतनी ही सैलरी मिलेगी, जितने दिन स्टॉफ ने काम किया है।स्पाइसजेट ने रविवार को रोटेशनल आधार पर 50,000 रुपये प्रति माह से अधिक कमाने वाले कर्मचारियों को बिना वेतन छुट्टी पर भेजने का फैसला किया है। गौरतलब हो कि तीन मई तक लागू लॉकडाउन के कारण उड़ान सेवाएं निलंबित है। उन्होंने बताया कि यह व्यवस्था तीन महीने तक लागू रहेगी।

सूत्रों ने यह भी बताया कि अप्रैल का वेतन कर्मचारियों को उन दिनों के लिए भुगतान किए जाने की संभावना है, जिस दिन वे ड्यूटी पर थे।कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए लागू राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के कारण वाणिज्यिक उड़ानें 25 मार्च से निलंबित हैं। गौरतलब हो कि सरकार ने 14 अप्रैल को लॉकडाउन को तीन मई तक बढ़ाने की घोषणा की।सूत्रों ने कहा कि एयरलाइन में यह व्यवस्था तीन महीने के लिए रहेगी। सूत्रों ने यह भी कहा कि एयरलाइन अपने कर्मचारियों को अप्रैल माह के वेतन का भुगतान उनके काम पर आने के दिनों के हिसाब से करेगी। राष्ट्रव्यापी बंद की वजह से एयरलाइन की वाणिज्यिक उड़ानें 25 मार्च से बंद हैं। बंद को बढ़ाकर तीन मई तक कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here