आसमान से बरसेंगे आग के गोले,बढ़ेगा लू का प्रकोप

0
27

नई दिल्ली :कोरोना संकट के बीच उत्तर भारत में गर्मी का कहर जारी है और अगले कुछ दिनों तक गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद कम है। दिल्ली में शुक्रवार के बाद शनिवार को भी गर्मी का प्रकोप देखने को मिला, जहां सफदरजंग मौसम स्टेशन ने 44.7 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया। इतना ही नहीं, शनिवार को कई राज्यों में पारा 45 डिग्री पार कर गया। मौसम विभाग के अनुसार, आने वाले कुछ दिनों में तापमान में और बढ़ोतरी होने की संभावना है।

मौसम विभाग की मानें तो फिलहाल 27 मई तक गर्मी से कोई राहत नहीं मिलने वाली है। राजधानी दिल्ली में शुष्क, गर्म हवाओं के चलने से अधिकतम तापमान 46- 47 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है। 28 मई की रात से एक पश्चिमी विक्षोभ प्रभावित करेगा जिससे धूल भरी आंधी आएगी या गरज के साथ बारिश हो सकती है। 28 मई के बाद निचले स्तर की तेज हवाएं कुछ राहत ला सकती हैं।

दिल्ली (Delhi) में भीषण गर्मी के कारण भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने रविवार को ऑरेंज अलर्ट जारी किया, जबकि शनिवार को येलो अलर्ट जारी किया गया था. मौसम विभाग के मुताबिक अगले दो दिनों में और ज्यादा गर्म हवाएं चलने का अनुमान है.आईएमडी के वैज्ञानिक डॉ. एन कुमार ने बताया कि, पंजाब, हरियाणा, दक्षिणी यूपी, मध्य प्रदेश, राजस्थान, तेलंगाना और तटीय आंध्र प्रदेश में तापमान में वृद्धि जारी रहेगी. अगले 5 दिनों में, इन क्षेत्रों में हीटवेव से लेकर गंभीर हीटवेव देखने को मिलेंगे. कुछ स्थानों पर तापमान 47 डिग्री सेल्सियस को छू सकता है.दिल्ली में सीजन का सबसे गर्म दिन शनिवार को रहा. पारे के 46 डिग्री पहुंचने के साथ ही रिकॉर्ड टूट गया. मौसम विभाग के अनुसार, पश्चिमोत्तर भारत में लू चलेंगी. इसके कारण दिल्ली में अगले 3-4 दिन में भीषण गर्मी पड़ने का अनुमान है.
दिल्ली के अलावा राजस्थान और यूपी के भी कई शहरों में तापमान 45 डिग्री के पार पहुंच गया है. वहीं, हरियाणा, मध्य प्रदेश, विदर्भ, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और गुजरात में भी कई शहरों पर लू का प्रकोप बढ़ता जा रहा है. मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक अगले 24 घंटे में दक्षिण-पश्चिमी उत्तर प्रदेश, गुजरात और तमिलनाडु के भी कुछ हिस्सों में प्रचंड गर्मी की आशंका है. जबकि तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, विदर्भ, मराठवाड़ा उत्तरी मध्य महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में लू जारी रहेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here