महाराष्ट्र में मंत्रालयों का हुआ बंटवारा ,कांग्रेस को किया किनारा

0
16

महाराष्ट्र में विभागों के आवंटन के तहत उपमुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ एनसीपी नेता अजित पवार को वित्त एवं योजना विभाग दिया गया है जबकि एनसीपी के ही अनिल देशमुख राज्य के नए गृह मंत्री बनाये गये हैं । एक वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को बताया कि इनके अलावा, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे और पहली बार विधायक बने शिवसेना के आदित्य ठाकरे को पर्यावरण, पर्यटन एवं प्रोटोकॉल विभागों का प्रभार सौंपा गया है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बालासाहेब थोराट को राजस्व मंत्रालय मिला है जबकि पूर्व मुख्यमंत्री तथा कांग्रेस के ही अशोक चव्हाण को लोक कल्याण विभाग (जिसमें सार्वजनिक उपक्रम शामिल नहीं हैं) दिया गया।

इन सबके बीच कांग्रेस को कोई ऐसा विभाग (पोर्टफोलिया) नहीं मिला जो गांव-घर से जुड़ा हो. कृषि, सिंचाई, ग्रामीण विकास, सिंचाई या सहकारी ऐसे विभाग हैं जिनका गांवों से सीधा नाता है. लेकिन उद्धव ठाकरे ने ऐसे विभागों को खुद की पार्टी शिवसेना को आवंटित कर दिया है. बाकी के कुछ अहम विभाग एनसीपी को दिए गए हैं. कृषि मंत्रालय शिवसेना ने खुद के पास रखा है. ऐसा तब किया गया है कि जबकि कांग्रेस के अधिकांश विधायक ग्रामीण इलाकों से जीत कर आए हैं. विभाग आवंटन से पहले उनकी कोशिश भी यही थी कि उन्हें गांव से जुड़े विभाग दिए जाएं लेकिन उनकी उम्मीदों पर पानी फिर गया है.एनसीपी मंत्रियों में छगन भुजबल को खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग, नवाब मलिक को अल्पसंख्यक मामलों का मंत्रालय, वक्फ बोर्ड, कौशल विकास एवं उद्यमिता, दिलीप वाल्से पाटिल को आबकारी एवं श्रम, जयंत पाटिल को जल संसाधन विकास एवं कमान क्षेत्र विकास और राजेंद्र शिंगने को खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग सौंपा गया.
इसके अलावा, एनसीपी के राजेश तोपे को लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, हसन मुशरिफ को ग्रामीण विकास और बालासाहेब पाटिल को सहकारिता एवं विपणन विभाग का कार्यभार दिया गया.
शिवसेना में दादाजी भुसे को कृषि एवं सेवानिवृत्त कर्मी कल्याण विभाग, संदीपन भुमरे को ईजीएस और बागवानी, गुलाबराव पाटिल को जलापूर्ति एवं स्वच्छता, संजय राठौड़ को वन, राहत एवं पुनर्वास और आपदा प्रबंधन तथा उदय सामंत को उच्चतर एवं तकनीकी शिक्षा विभाग सौंपे गए.
कांग्रेस के नेताओं में से यशोमति ठाकुर को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, वर्षा गायकवाड़ को स्कूली शिक्षा विभाग, सुनील केदार को पशु संवर्धन और डेयरी विकास विभाग, युवा एवं खेल कल्याण विभाग, विजय वडेट्टीवार को ओबीसी कल्याण और नमक भूमि विकास, अमित देशमुख को चिकित्सकीय शिक्षा एवं संस्कृति, के सी पाडवी को जनजातीय विकास और असलम शेख को कपड़ा, मत्स्य एवं बंदरगाह विकास मंत्रालय दिया गया.
इसके अलावा निर्दलीय विधायक शंकरराव गडाख को भूमि एवं जल संरक्षण विभाग मिला. एनसीपी के राज्य मंत्रियों में दत्तात्रेय भरणे को पीडब्ल्यूडी, वन, पशुसंरक्षण एवं जीएडी, संजय बंसोडे को पर्यावरण, पेयजल एवं स्वच्छता, प्राजक्त तानपुरे को शहरी विकास, विद्युत एवं जनजातीय विकास और अदिति तातकारे को उद्योग, पर्यटन, बागवानी एवं खेल मंत्रालय सौंपे गए.
शिवसेना के राज्य मंत्रियों में शम्भूराज देसाई को गृह-ग्रामीण, वित्त एवं योजना और आबकारी तथा अब्दुल सत्तार को राजस्व, ग्रामीण विकास, बंदरगाह और नमक भूमि विकास सौंपा गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here