महाराष्ट्र में सरकार बनाने पर जारी ड्रामा में RSS की हुई एंट्री

0
17

मुंबई :महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के बीच गतिरोध कायम है। 50-50 फार्मूले पर अड़ी शिवसेना लगातार बीजेपी पर दवाब बना रही है। इस बीच शिवसेना के नेता किशोर तिवारी ने राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत को सरकार गठन के मसले पर एक पत्र लिखा है और उन्हें इसकी कवायद करने की गुहार लगाई है। शिवसेना नेता किशोर तिवारी ने सरकार गठन को लेकर बीजेपी से जारी गतिरोध को खत्म करने में पहल करने के लिए मोहन भागवत से अपील की है और बातचीत के लिए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को भेजने की बात कही है। किशोर तिवारी ने मामले को सुलझाने के लिए केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी को भेजने की मांग की. किशोर तिवारी ने कहा कि नितिन गडकरी दो घंटे में स्थिति का समाधान कर सकते हैं.शिवसेना नेता संजय राउत कह रहे हैं कि शिवसेना एनसीपी के संपर्क में है. हालांकि, जब उनसे सवाल किया गया कि क्या महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री एनसीपी प्रमुख शरद पवार हो सकते हैं तो राउत ने उन्हें दिल्ली का नेता बताकर अपना जवाब घुमा दिया.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने के बाद से ही शिवसेना दावा करती आ रही है कि BJP ने चुनाव से पहले सत्ता के 50-50 बंटवारे पर सहमति व्यक्त की थी. शिवसेना के अनुसार, इसका अर्थ यह है कि मुख्यमंत्री तथा मंत्रिमंडल के आधे पद बारी-बारी दोनों पार्टियों को हासिल होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here