दीदी के तेवर सख्त,कहा:इस देश का बॉस बनने की कोशिश न करें मोदी जी क्योंकि…..

0
60

नई दिल्ली :सीबीआई विवाद में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नैतिक जीत बताया है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला नैतिक जीत है, बंगाल की जीत है, हमारी और आपकी जीत है। वहीं धरना जारी रखने के फैसले पर उन्होंने कहा कि वह अपने नेताओं से बात करके इस पर फैसला लेंगी। ममता ने यह भी कहा कि वह जल्दबाजी में कोई जवाब नहीं देगी। सीबीआई बिना नोटिस के कमिश्नर के घर गई थी।उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार संविधान का उल्लंघन कर रही है, हम सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करेंगे. उन्होंने कहा कि इस देश का कोई बिग बॉस नहीं हो सकता है, सिर्फ लोकतंत्र ही बिग बॉस है. ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार की आलोचना करने पर हमारा विरोध होता है. सुप्रीम कोर्ट का आदेश बंगाल की जनता, देश की जनता और मीडिया की जीत है. उन्होंने कहा कि कई मंत्री फोन करके कहते हैं कि ममता बनर्जी के खिलाफ मत बोलें.सीबीआई का अपना कोर्ट है. कितने लोगों को न्याय मिलता है. मैं सिर्फ राजीव कुमार के लिए नहीं लड़ रही हूं, मैं करोड़ों लोगों के लिए लड़ रही हूं.
यह पूछे जाने पर कि क्या वह अपना धरना जारी रखेंगी, इस पर उन्होंने कहा कि “मैं जल्दबाज़ी में फैसला नहीं करूंगी. मुझे अपने लोगों से सलाह लेने दें. इतने सारे नेता आ रहे हैं. आज नायडू आ रहे हैं. हम अकेले नहीं लड़ रहे हैं. मुझे परामर्श लेने दीजिए उसके बाद बताऊंगी.उन्होंने कहा की मैं देश को बचाने के लिए अपनी जिंदगी कुर्बान करने को तैयार हूं, मगर अन्याय बर्दाश्त नहीं करूंगी.

बता दें की चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने आदेश दिया है कि कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सीबीआई के सामने पेश होना चाहिए और उन्हें जांच में सहयोग करना चाहिए. हालांकि, इस दौरान सीबीआई राजीव कुमार को गिरफ्तार नहीं कर सकती है. पश्चिम बंगाल की सरकार की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि सीबीआई राजीव कुमार को गिरफ्तार करना चाहती है, जिसपर सीजेआई ने कहा कि आप बहुत ज्यादा कल्पना करते हैं.चीफ जस्टिस ने आदेश दिया है कि पुलिस कमिश्नर को शिलॉन्ग में सीबीआई के सामने पेश होना होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here