अब ”मास्टरस्ट्रोक” के पुराने एपीसोड को यूट्यूब से हटाने का आदेश

0
41

नई दिल्ली : आप को याद होगा की मशहूर पत्रकार और टीवी एंकर पुण्य प्रसून बाजपाई अपना धमाकेदार शो ”मास्टर स्ट्रोक ” एबीपी न्यूज़ चैनल पर रात के 9 बजे पेश करते थे ,यह एक ऐसा प्रोग्राम होता था जो सत्ता की कुर्सी पर बैठी मोदी सरकार को आइना दिखाने का काम करता था ,शायद हर शाम मोदी सरकार के पोल खोलने वाले इस शो से भाजपा सरकार काफी डर गई थी ,जिस के कारण उन्होंने इस शो को बंद कराने का प्रयास किया ,पुरे सरकारी तंत्र का प्रयोग कर के मोदी सरकार इस शो को बंद कराने और पुण्य प्रसून बाजपाई को एबीपी चैनल से बाहर कराने में सफल हो गई ,लेकिन फिर भी लोग बाजपाई के इस शो के वीडियो को यूट्यूब से देख रहे थे और खूब शेयर कर रहे थे ,चूँकि बाजपाई जी ने पूरी तरह बेखौफ हो कर प्रोग्राम तैयार करवाया था इस लिए उसका असर आज तक बाक़ी है और लोग आज भी उनके पुराने वीडियो को देख कर शेयर करना नहीं भूल रहे हैं ,ऐसे में यह मोदी सरकार के लिए चिंता का विषय बनना अनिवार्य था इस लिए मोदी सरकार ने शायद इस पर कार्रवाई का हुक्म एबीपी के मालिक को दिया है तभी तो यूट्यूब से पुण्यप्रसून बाजपाई वाले मास्टर स्ट्रोक की वीडियो को डिलीट कर दिया गया है।
इस बात खुलासा कोई और नहीं खुद पुण्य प्रसून बाजपाई ने की है। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर इस बात की जानकारी दी है की यूट्यूब से मास्टर स्ट्रोक के पुराने एपिसोड को हटाने का आदेश दिया गया है और अब तक 27 एपिसोड डिलीट कर दिया गया है। बहुत मुमकिन है की धीरे धीरे पुरे डिलीट कर दिए जाएं। बाजपाई ने अपने ट्विटर पर लिखा है की ”साहेब का डर….अब”मास्टरस्ट्रोक” के पुराने एपीसोड को यूट्यूब से हटाने का आदेश…27 एपीसोड साफ़..पर सत्ता के झूठ को पकड़ने वाला”सच”एपीसोड बचा हुआ है…

आप को बता दें की सत्ता का झूट पकड़ने वाला वही शो है जिसमे एक महिला मोदी से बात चीत में दावा करती है की एक साल में उनकी आय दुग्गनी हो गई है ,लेकिन जैसे है एबीपी की टीम सर्च करती है और उस महिला से इस की सच्चाई जानने की कोशिश करती है तो मालूम होता है की सरकार और पार्टी के लोगों ने उस महिला को सिखाया हुवा था की वह ऐसी बात पीएम मोदी से कहे। … इस शो ने मोदी सरकार की नींद उड़ा दी थी चूंकि यह सरकारी रचनात्मक ढंग से बोला जाने वाला झूट था ,जिसको एबीपी पर बाजपाई ने दूध का दूध और पानी का पानी कर के पेश कर दिया ,नतीजा यह हुवा की पुण्य प्रसून को अपनी नौकरी गंवानी पड़ी और एबीपी से इस्तीफा देना पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here