सिद्धू के ट्वीट ने फिर मचाया धमाल

0
31

नई दिल्ली :भारत पाक के बीच बढ़े हुए तनाव के बीच पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बार अपने बयान से विवाद खड़ा कर लिया है। मौका मिलते ही ‘गुरु’ सिद्धू एक बार फिर अपने ‘दिलदार यार’ इमरान खान के अंदाज शुरू हो गए। पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन को रिहा करने की घोषणा के बाद सिद्धू ने पहले उनकी (इमरान) तारीफ में ट्वीट किया। इसके बाद उन्होंने दो पेजों की शांति अपील जारी की, लेकिन इसमें पाकिस्‍तान प्रायोजित आतंकवाद की चर्चा तक नहीं की है। दूसरी आेर, कांग्रेस ने सिद्धू के बयान से पल्‍ला झाड़ लिया है।इसके साथ ही सिद्धू ने एक बार फिर विवादित बयान से कांग्रेस के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है। इसके साथ ही वह फिर पाकिस्तान से बातचीत की फिर वकालत नजर आ। उन्‍होंने भारतीय पायलट अभिनंदन की रिहाई के लिए इमरान खान का धन्यवाद भी किया और ट्वीट कर उनकी जमकर तारीफ की। दूसरी तरफ कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष तिवारी ने उनके बयान से पल्ला झाड़ते हुए इसे उनकी निजी राय बताया है। उन्होंने कहा कि मौजूदा माहौल में पार्टी पाक से बातचीत के पक्ष में नहीं है।

वहीँ दूसरी तरफ आज सिद्धू ने और ट्वीट कर के खलबली मचा दी है। शुक्रवार की सुबह नवजोत सिंह सिद्धू ने एक ट्वीट किया और उसमें लिखा- ‘जिस जंग में बादशाह की जान को खतरा न हो, उसे जंग नही राजनीति कहते है. ~ चाणक्य। इसके बाद सिद्धू ने अंग्रेजी में भी एक लाइन लिखी है, जिसका मतलब है- युद्ध एक विफल सरकार का आश्रय है, आप अपने खोखले राजनीतिक उद्देश्यों के लिए कितने अधिक निर्दोष जीवन और जवानों का बलिदान करेंगे.’ दरअसल, नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने इस ट्वीट को चाणक्य के क्योट का हवाला दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here