अब पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर पर भारत के सामने रख दी नई शर्तें

0
20

इस्लामाबाद: करतारपुर गलियारे के लिए पाकिस्तान सरकार ने भारत को नियमों और शर्तों से भरा प्रस्ताव भेजा है। इन शर्तों के तहत बगैर परमिट के किसी भी श्रद्धालु को प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। पासपोर्ट जरूरी दस्तावेज होगा और एक दिन में केवल 500 श्रद्धालुओं को ही प्रवेश दिया जाएगा। साथ ही, प्रस्ताव में कहा गया है कि भारत को तीन दिन पहले यात्रियों की जानकारी देना भी जरूरी होगा।पाक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस्लामाबाद ने 59 पेज के दस्तावेज में नई दिल्ली से 14 प्रमुख सुझाव रखे हैं। एक्सप्रेस न्यूज टीवी ने पाकिस्तानी अधिकारियों के हवाले से यह जानकारी दी। यह सुझाव भारतीय श्रद्धालुओं को बिना वीजा प्रवेश देने के लिए है और इसके लिए सीमा के दोनों तरफ सुरक्षा चेक-पोस्ट्स और सुविधा केंद्र गठित किए जाने की बात कही गई है।

पाकिस्तान ने कहा है कि श्रद्धालुओं को कम से कम 15 लोगों के समूह में आने की इजाजत दी जाएगी और पड़ोसी मुल्क उनके लिए स्पेशल परमिट जारी करेगा। पाक दस्तावेज में कहा गया है कि दोनों देश आगंतुकों के रेकॉर्ड रखेंगे, जिसमें लोगों के नाम, यात्रा रेकॉर्ड और दूसरी जानकारी रखी जाएगी। पाक ने कहा है कि भारत सरकार को श्रद्धालुओं की सूची तीन दिन पहले ही देनी होगी और सभी आगंतुकों के लिए भारतीय पासपोर्ट साथ लेकर आना अनिवार्य होगा।
पाकिस्तान तीर्थयात्रियों को इन शर्तों के तहत कॉरिडोर तक आने की अनुमति देगा –

1. समूह में कम से कम 15 तीर्थयात्री हों.

2. तीर्थयात्रियों को अपने पास वैध पासपोर्ट और प्रासंगिक सुरक्षा निकासी दस्तावेज रखना होगा.

3. भारत को तीर्थयात्रियों के सभी विवरणों के साथ उनके आने की सूचना तीन दिन पहले देनी होगी.

4. परमिट सिर्फ करतारपुर की यात्रा के लिए जारी किया जाएगा.

5. एक दिन में 500 से अधिक तीर्थयात्रियों को आने का परमिट नहीं दिया जाएगा.

6. भारतीय तीर्थयात्रियों के लिए गलियारा सुबह 8 से शाम 5 बजे तक खुला रहेगा.

अपने ड्राफ्ट में पाकिस्तान का लिखा है कि वह किसी भी समय तीर्थयात्री को मना करने का अधिकार सुरक्षित रखता है और यह समझौता दोनों देशों (पाकिस्तान और भारत) के राष्ट्रीय कानूनों के अनुसार लागू किया जाएगा. पाकिस्तान के कानूनों और नियमों का पालन करने वाले तीर्थयात्रियों के लिए कोई छूट नहीं होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here