एक दिन में भाजपा को दो झटके,कैबिनेट मंत्री राजभर दिया इस्तीफा

0
40

लखनऊ :अपने बयानों से अक्सर यूपी की भाजपा सरकार को असहज कर देने वाले कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने अपना विभाग लौटा दिया है। वह पिछड़ा वर्ग व दिव्यांग कल्याण मंत्री थे। हालांकि उन्होंने सरकार से समर्थन वापस लेने के लिए 24 फरवरी तक का अल्टीमेटम दिया है। किन्तु सरकार पर दबाव डालने के लिए राजभर कैबिनेट से अलग हो सकते हैं। हालांकि, राजभर आज पिछड़ा वर्ग का प्रभार सीएम योगी को वापस करने वाले हैं। जबकि दिव्यांगजन विभाग वे अपने पास रखेंगे। वहीं कांग्रेस ने राजभर पर नजर जमा रखी है। माना जा रहा है कि राजभर की कांग्रेस के नेताओं से चर्चा भी चल रही है। हालांकि राजभर ने अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की है।ओमप्रकाश राजभर ने कहा, पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग का मंत्री होने के बावजूद पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग के गठन के लिए मैंने जो सूची मुख्यमंत्री के पास भेजी थी, उसमें से एक भी सदस्य को नामित नहीं किया गया और अपने 27 सदस्यों को आयोग में नामित कर दिया. ऐसे में ये विभाग अपने पास रखने का कोई औचित्य नहीं है.

इससे पहले वाराणसी में ओम प्रकाश राजभर ने कहा था, पिछडो का आरक्षण बिल पास नहीं हुआ, इसलिए हम प्रयागराज में हो रहे कैबिनेट में शामिल नहीं हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमारे साथ धोखा हुआ है. हम 24 फरवरी को वाराणसी में रैली कर अपना फैसला सुना देंगे और 25 फरवरी को यूपी के सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर देंगे. राजभर ने कहा कि हम 24 फरवरी तक समय देते हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा कि प्रयागराज में कैबिनेट की बैठक धार्मिक भावना भडकाने की कोशिश है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here