अब इमरान मांगे शांति का नोबेल इनाम,नई कोशिश में पाकिस्तान

0
22

नई दिल्ली :पाकिस्तान आर्मी द्वारा बंदी बनाए गए भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन कल रात नौ बजे वतन वापस लौट आए हैं. पाकिस्तान सेना उन्हें अटारी बॉर्डर लेकर पहुंची और भारत के हवाले कर दिया. अमेरिका, रूस समेत कई देशों के दबाव और भारत के आक्रामक रुख के बाद पाकिस्तान अभिनंदन को वापस भेजा है.इससे पहले पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन का मेडिकल चेकअप किया. इसके बाद उनका मेडिकल रिपोर्ट तैयार किया गया. इसके बाद उनको भारतीय अधिकारियों को सौंपा गया. इस बीच अटारी बॉर्डर पर लोग उन्हें देखने उमड़ पड़े. एयरवाइस मार्शल आर जी के कपूर ने कहा कि वायुसेना के पायलट अभिनंदन वर्धमान को अभी अभी हमें सौंपा गया है। उन्होंने कहा कि हम उन्हें वापस पाकर खुश हैं। उन्होंने कहा कि पायलट को विस्तृत मेडिकल जांच के लिये ले जाया जायेगा क्योंकि उन्हें काफी तनाव के क्षणों से गुजरना पड़ा। विदेश मंत्रालय ने कहा कि विंग कमांडर अभिनंदन को वाघा अटारी बार्डर पर भारतीय अधिकारियों को सौंप दिया गया।

अब इस विषय में एक नई बात सामने आई है। दरअसल विंग कमांडर अभिनंदन को भारत भेजने के बाद पाकिस्तान का असली रुप सामने आ रहा है। पाकिस्तान ने इमरान खान की ब्रांडिंग शांति के मसीहा के रुप में करने की कोशिश शुरू कर दी है। पाकिस्तान संसद में इमरान खान को नोबेल शांति पुरस्कार देने की मांग की गई। इसके लिए पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में प्रस्ताव पेश किया गया है। साथ ही पाकिस्तान में ऑनलाइन याचिकाएं भी डाली जा रही हैं।अब देखना यह होगा की पाकिस्तान को इस मनसूबे में कितनी सफलता मिलती है .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here