शिवहर जिले का शैख़ बसहिया गाँव भी बन गया शाहीन बाग़

0
15

(बेताब शबनम) शिवहर;पिपराही थाना क्षेत्र के बसहिया गाँव मे संविधान बचाओ देस बचाओ मोर्चा के बैनर तले हज़ारो महिला एवं पुरुष के द्वारा अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन पिछले,13 मार्च,2020,से लगातार चल रहा है इसमें बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं अपने हाथों में तख्ती पे,लिखे,NO,CAA,NO,NRC,NO,NPR,और अपने माथे पर राष्ट्रीय ध्वज की पट्टी को बांधकर शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रही है वहाँ पर मौजूद मंच नारो से गूंज रहा है हिंदू,मुस्लिम,सिख,ईसाई आपस में हम सब है भाई भाई यह देश जितना हिंदुओं का है उतना ही मुसलमानों का है जब यह देश अंग्रेजों के हाथ से आजाद हुआ था उस समय हिंदू मुस्लिम सिख ईसाई सब का सब आपस में मिलकर देश को आजाद करने का काम किया था,आज केंद्र की नरेंद्र मोदी व अमित शाह की सरकार नेCAA,NRC,NPR,जैसे काले कानून को लाकर हम सभी भारतीय के साथ व ख़ास कर मुसलमानों के हक़ को छीनने का काम कर रही है,केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने बाबा भीमराव अंबेडकर के लिखे हुवे संविधान को भी छेड़ छाड़ कर रही है,इस काले कानून को लागू कर भारत जैसा लोकतंत्र देस का भी लोकतंत्र की हत्या हो रही है,वही अगर हम इस कानून के बाड़े में जानकारों की माने तो अभी कुछ दिन पहले कोंग्रेस के वरिष्ट नेता व सुप्रीमकोर्ट के सीनियर एडवोकेट श्री कपिल सिब्बल जी ने एक TV,चैनल पे भी ये बात कह चुके है कि अगर राज्य सरकार अपने राज्य में,अपने विधानसभा में भी इस कानून के ख़िलाफ़ अगर प्रसताव पास कर देती है फिर भी ये कानून को कोई असर पड़ने वाला नही है भारत के कई राज्य ने इस कानून के विरुद्ध अपने अपने विधानसभा में प्रस्ताव लाकर पास कर दिया जा चुका है जानकारों व विशेषज्ञों की माने तो राज्य सरकार को इसका अधिकार नही है जानकार बताते है कि केंद्र व राज्य सरकार आपस मे इस कानून को लेकर उलझता हुवा दिख रहा है,वही धरना प्रदर्शन कर रही महिलाओं का कहना है जब तक ये काला कानून वापस नहीं होगा तब तक हमारा आंदोलन जारी रहेगा!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here