अयोध्या के मुसलमानों की जान को खतरा ,इकबाल अंसारी ने अयोध्या छोड़ने की दी धमकी

0
58

नई दिल्ली :अयोध्या में 25 नवंबर को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) और विश्व हिंदू परिषद (VHP) की रैली को लेकर राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद के मुद्दई इकबाल अंसारी ने चिंता जाहिर की है.राम मंदिर निर्माण को लेकर होने वाले RSS और VHP के कार्यक्रम पर मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी ने कहा कि अयोध्या का मुस्लिम समुदाय अगर ऐसी ही दहशत में रहा, तो मुसलमान अपनी जान की हिफाजत के लिए अयोध्या छोड़ने को मजबूर हो जाएंगे.अंसारी ने 25 नवंबर से पहले अयोध्या से पलायन की चेतावनी देते हुए चिंता जताई है। बता दें कि इकबाल अंसारी बाबरी मस्जिद के मुद्दई हैं। अंसारी ने भीड़ को देखते हुए सुरक्षा ना बढ़ाने पर दी चेतावनी है। उन्होंने कहा, ‘1992 में भी ऐसे ही भीड़ बढ़ी थी। कई मस्जिदें तोड़ी गई थीं और मकान जलाए गए थे।सुरक्षा की मांग करते हुए अंसारी ने कहा, ‘अगर अयोध्या में भीड़ बढ़ रही है तो हमारी और मुसलमानों की सुरक्षा बढ़ाई जाए। सुरक्षा नहीं बढ़ाई गई तो हम 25 तारीख से पहले अयोध्या छोड़ देंगे। गौरतलब है कि 25 नवंबर को शिवसेना और विश्व हिंदू परिषद के कार्यक्रम में लाखों लोगों की भीड़ जुटने की संभावना जताई जा रही है। इसी के चलते इकबाल अंसारी ने प्रशासन से सुरक्षा की मांग की है।आरएसएस और विश्व हिन्दू परिषद् की 25 नवंबर को होने वाली रैली को लेकर उन्होंने कहा कि मुस्लिम समाज को डराने के मकसद से यहां भीड़ जुटाई जा रही है. गौरतलब है कि बाबरी मस्जिद-राम मंदिर विवाद मामले की सुनवाई अभी सुप्रीम कोर्ट में चल रही है. वहीं इस मामले में साधु-संत समाज और RSS के साथ ही कई हिंदूवादी संगठन राम मंदिर निर्माण के लिए संसद में कानून लाने की मांग कर रहे हैं.अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 25 नवंबर को आरएसएस और वीएचपी की होने वाली हुंकार रैली में ज्यादा से ज्यादा लोगों से शामिल होने की अपील की जा रही है. बाकायदा इस रैली के लिए पर्चे बांटे जा रहे हैं. अयोध्या में होने वाली इस रैली के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी लोगों से हुंकार रैली में पहुंचने की अपील की जा रही है. इक़बाल अंसारी इस बड़े पैमाने पर भीड़ को एकजुट करने को लेकर ही चिंतित हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here