मनी लॉन्ड्रिंग केस: रॉबर्ट वाड्रा और प्रियंका वाड्रा का बड़ा बयान

0
37

नई दिल्ली :रॉबर्ट वाड्रा बीती रात अमेरिका से दिल्ली लौट आए हैं. वह मनी लॉड्रिंग के एक केस के सिलसिले में बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय में पेश होने पहुंच गए हैं. साथ में पत्नी प्रियंका गांधी वाड्रा भी मौजूद थीं. हालांकि, ED दफ्तर में सिर्फ राबर्ट वाड्रा गए और थोड़ी देर बाहर इंतजार करने के बाद प्रियंका वहां से चली गई हैं. बताया जा रहा है कि रॉबर्ट वाड्रा अपना चश्मा लाना भूल गए थे. इस कारण पूछताछ देरी से शुरू हुई. वाड्रा से ईडी तीन चरणों में पूछताछ कर रही है.पूछताछ के दौरान रॉबर्ट वाड्रा ने संजय भंडारी और उनके चचेरे भाई शिखर चड्ढा के साथ किसी भी व्यापारिक संबंध से इनकार किया. उन्होंने कहा कि मैं मनोज अरोरा को जानता हूं. वे मेरे कर्मचारी थे, लेकिन उन्होंने अरोरा के ईमेल लिखने से इंकार किया. इसके साथ ही वाड्रा ने कहा कि मेरे पास कोई प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से लंदन में संपत्ति नहीं है.सूत्रों के मुताबिक, रॉबर्ट वाड्रा से 40 से ज़्यादा सवाल पूछे जा रहे हैं. ईडी के सूत्रों के मुताबिक वाड्रा ने कहा है कि संजय भंडारी से लंदन में उनकी कई बार मुलाकात हुई है. भंडारी सिंटेक इंटरनैशन के मालिक हैं और वाड्रा की इनसे दोस्ती रही है.वहीँ दूसरी तरफ इस पुरे मामले प्रियंका गांधी ने कहा कि पूरी दुनिया को पता है कि क्या हो रहा है.

बता दें की ये मामला लंदन के 12, ब्रायनस्टन स्क्वेयर स्थित 19 लाख पाउंड (करीब 17 करोड़ रुपये) की एक प्रॉपर्टी की खरीदारी में कथित मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ा हुआ है. ईडी का दावा है कि इस संपत्ति के असल मालिक वाड्रा हैं. मनी लॉन्ड्रिंग केस के तहत ईडी मनोज अरोड़ा से भी पूछताछ कर रही है. फिलहाल मनोज अरोड़ा की गिरफ्तारी पर पटियाला हाउस ने 6 फरवरी तक अंतरिम रोक लगा दी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here