जो भारत है वही RSS है,जो आरएसएस को नहीं मानता,वह भारत को नहीं मानता:RSS

0
13

नई दिल्ली :RSS ने संयुक्त राष्ट्र के मंच से इमरान खान के विरोध को ज्यादा तवज्जो नहीं दिया है बल्कि संघ ने कहा कि इमरान खान बिना कुछ किए ही दुनिया में हमें प्रसिद्धि दिला रहे हैं, यह तो अच्छी बात है।RSS के सह सर कार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल शर्मा ने कहा कि संघ केवल भारत में है। हमारी कोई शाखा दुनिया में कहीं नहीं है, ऐसे में पाकिस्तान हमसे क्यों नाराज है? इसका मतलब है कि वह अगर संघ से नाराज है तो कहीं भारत से नाराज है।

उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि बिना कुछ किए ही इमरान खान दुनिया में हमें प्रसिद्धि दिला रहे हैं यह तो अच्छी बात है।सह सर कार्यवाह ने कहा कि बिना कुछ करे-धरे हमारे नाम को दुनिया में पहुंचा रहे हैं। जो-जो आतंकवाद से पीड़ित है, आतंकवाद के विरोध में हैं, वे दुनिया में यह अनुभव करने लगे हैं कुछ बात है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कहीं न कहीं आतंकवाद के विरोध में तो है तभी तो इतना विरोध कर रहा है। ऐसे में बिना कुछ किए इतनी प्रसिद्धि, प्रतिष्ठा मिल रही है इतना बहुत है। हम ईश्वर से प्रार्थना करते हैं कि वह (पाक पीएम) अपनी इस वाणी को विराम न दें, बोलते रहें।

उन्‍होंने आगे कहा, ‘संघ और भारत एक हो गए हैं अब। हम भी यही चाहते थे हमें दुनिया एक ही समझे दो में न समझे। यह काम अच्‍छी ढंग से इमरान साहब ने किया है हमारे नाम को दुनिया में पहुंचा रहे हैं। हम उन्‍हें बधाई देते हैं। बिना कुछ करे धरे हमारा नाम दुनिया में पहुंचा रहे हैं। दुनिया को भी यह अहसास हो रहा है कि कुछ बात है कि राष्‍ट्रीय स्‍वयं सेवक संघ कहीं न कहीं आतंक के विरोध में है।पाक पीएम इमरान खान ने कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के ‘लाइफ टाइम’ सदस्य हैं. संयुक्त राष्ट्र के संबोधन में इमरान ने कहा था कि कांग्रेस की सरकार के गृह मंत्री ने कहा था कि आरएसएस के कैंपों में आतंक की ट्रेनिंग दी जाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here