धारा 370 की हिमायत करने वाले नेताओं को लोग जूतों से मारेंगे:राज्यपाल मलिक़

0
21

श्रीनगर :जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 के प्रावधानों को खत्म किए जाने के बाद वहां लगी पाबंदियों में धीरे-धीरे ढील दी जा रही है। इसके अलावा सरकार ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के विकास का खाका खींचना भी शुरू कर दिया है। इसी सिलसिले में जम्मू-कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल मलिक ने बुधवार को ऐलान किया कि अगले 2 से 3 महीने में जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में 50,000 सरकारी नौकरियों के लिए भर्ती होगी।

इसके अलावा, उन्होंने यह भी कहा कि एक दो दिन में कश्मीर के विकास के लिए कुछ बड़ी घोषणाएं हो सकती हैं। गवर्नर मलिक ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर हमला करते हुए उन्हें राजनीतिक नौसिखुआ भी बताया। उन्होंने कहा कि जो पाबंदी है यह क्यों है यह समझना होगा. फोन और इंटरनेट पर पाबंदी इसलिए है क्योंकि इसका ज्यादा इस्तेमाल पाकिस्तान और आतंकी करते हैं. यह हमारे लिए हथियार हैं इसलिए अभी बंद हैं, लेकिन धीरे-धीरे खोल देंगे. 81 पुलिस स्टेशनों से पाबंदी हटाई गई है. इसी तरह से टेलीफोन जो है लैंडलाइन वाला वह ज्यादातर जगहों पर खुल गया है.

इंटरनेट शायद थोड़ी देर से खोले जाएंगे, क्योंकि यह सबसे खतरनाक हथियार है. 3 हजार प्राइमरी स्कूल और 1 हजार हाई स्कूल खोल दिये गए हैं. पब्लिक ट्रांस्पोर्ट अच्छे से काम कर रहा है. 95 में से 45 टेलिफोन एक्सचेंज खोले जा चुके हैं. जम्मू में सभी 10 जिलों में फोन खोले गए. लद्दाख के दो जिलों में भी फोन खोले गए. मरीजों को आर्थिक मदद दी जा रही है. डॉक्टरों को बुलाने के लिए बसें लगाई गई हैं. हाजी के लिए बढ़िया अरेंजमेंट किया गया है.

जम्मू-कश्मीर की पहचान, संस्कृति और अन्य चीजों की हम निगरानी करेंगे.वहीँ उन्होंने यह भी कहा की अब धारा 370 को वापस नहीं ला सकते ,लेकिन जो लोग 370 के हिमायती हैं जब वह लोग वोट मांगने जाएंगे तो लोग उन्हें जूतों से मारेंगे।

 

Governor Satypal Malik

Posted by India Headlines Hindi on Wednesday, August 28, 2019

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here