लॉकडाउन के बीच SBI ने ग्राहकों को दिया बड़ा तोहफा

0
5

नई दिल्ली. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने आज रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा नीतिगत ब्याज दरों में कटौती का पूरा लाभ ग्राहकों को देने का फैसला किया है. शुक्रवार सुबह ही रिज़र्व बैंक ने रेपो रेट में 75 बेसिस प्वाइंट की कटौती किया था, जिसके बाद यह 4.4 फीसदी के स्तर पर आ गया था. RBI ने रिवर्स रेपो रेट में 90 बेसिस प्वाइंट की कटौती कर इसे 4 फीसदी के स्तर पर लाया था.

RBI के इस फैसले के बाद SBI ने शुक्रवार देर शाम को एक्सटर्नल और रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट में भी 75-75 बेसिस प्वाइंट की कटौती किया है. बैंक ने जानकारी दी कि नए लेंडिग रेट्स 1 अप्रैल 2020 से लागू कर दिए जाएंगे.
SBI के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि कर्जदारों के EMI की तीन किस्त को ऑटोमैटिकली टाल दिया गया है. इसके लिए ग्राहक को बैंक में अप्लाई करने की जरूरत नहीं है. वहीं एसबीआई के क्रेडिट कार्ड पेमेंट पर फिलहाल कोई राहत नहीं है. एसबीआई चेयरमैन ने इसके साथ ही स्पष्ट किया कि 3 महीने तक ईएमआई पेमेंट नहीं देने की स्थिति में ग्रा​हकों के क्रेडिट स्कोर पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

बता दें कि शुक्रवार सुबह आरबीआई ने बैंकों से लोन की ईएमआई दे रहे लोगों को 3 महीने तक के राहत की सलाह दी थी. आरबीआई ने ये सलाह लॉकडाउन की वजह से दी है. हालांकि, आरबीआई ने इसे अनिवार्य नहीं किया है. इसके बाद एसबीआई पहला बैंक हे जिसने ग्राहकों को राहत दी है. अब अन्य सरकारी और निजी बैंकों पर भी ग्राहकों के लोन की ईएमआई को 3 महीने तक बढ़ाने का दबाव बढ़ गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here