शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों ने पेश की इंसानियत की मिसाल

0
55

नई दिल्ली :दिल्ली के शाहीन बाग में सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर पिछले 57 दिनों से जारी प्रदर्शन के चलते दिल्ली को नोएडा से जोड़ने वाली सड़क 13 A बंद पड़ी हुई है। रविवार को शाहीन बाग से एक शव यात्रा निकलने के दौरान प्रदर्शनकारियों ने रास्ता खाली कर दिया।इस तरह शवयात्रा को रास्ता देने को लेकर प्रदर्शनकारियों ने कहा कि उनका प्रदर्शन इस कानून के खिलाफ है. लोगों के खिलाफ नहीं. इस दौरान एक प्रदर्शनकारी महिला ने कहा,

प्रदर्शन कर रही एक महिला ने कहा की “हम एक दूसरे का सम्मान करते हैं, हमने कुछ भी अलग नहीं किया है. इसमें कोई चौंकने वाली बात नहीं है. ऐसा पहले भी होता आया है. हम लोग स्कूल की बसों और एंबुलेंस के लिए भी रास्ता छोड़ते हैं और उन्हें इस सड़क से गुजरने देते हैं.दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को मतदान हुआ। इस चुनाव में शाहीन बाग का मुद्दा खूब छाया रहा। शाहीन बाग व दिल्ली में अन्य जगह चल रहे सीएए, एनआरसी व एनपीआर के विरोध में चल रहे प्रदर्शनस्थल पर लंगर लगाने वाले पेशे से अधिवक्ता डीएस बिंद्रा का दावा है कि इसके लिए उन्होंने अपना एक फ्लैट बेच दिया है। उनके पास दो फ्लैट हैं एक में अभी वह रहते हैं। उनका कहना है कि प्रदर्शन में लोगों की सेवा के लिए उन्होंने ऐसा किया है। किसी धार्मिक स्थल पर आर्थिक दान देने से अच्छा है कि वाहे गुरु ने जो उन्हें दिया है उसे मानवता की सेवा लगा दिया जाएग।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here