जायरा के बाद शाज़िया ने धर्म के लिए फ़िल्मी दुनिया से किया तौबा

0
6

नई दिल्ली :पाकिस्तान (Pakistan) की सिंगिंग इडस्ट्री से चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है। खबर है कि सूफी सिंगर शाजिया खश्क (Shazia Khushk) ने सिंगिंग की दुनिया से अलविदा कह दिया है। शाजिया ने शोबिज को अलविदा कहते हुए कहा है कि अब वह गाना नहीं गाएंगी। हालांकि पाकिस्तानी फैंस उनके इस फैसले में उनका साथ दे रहे हैं।
उन्होंने कहा कि उन्होंने गायिकी छोड़ने का फैसला इसलिए किया क्योंकि वह अब अपनी जिंदगी पूरी तरह से इस्लामी शिक्षा के अनुरूप जीना चाहती हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं फैसला कर चुकी हूं. मुझे अब अपनी बाकी की जिंदगी इस्लाम की सेवा में बितानी है.

उन्होंने अब तक उनका समर्थन करने के लिए प्रशंसकों को धन्यवाद दिया और कहा कि उन्हें उम्मीद है कि उनके ताजा फैसले का भी प्रशंसक समर्थन करेंगे. उन्होंने कहा कि वह अपने फैसले को नहीं बदलेंगी और शोबिज में वापस कदम नहीं रखेंगी.

49 साल की शाजिया खश्क पाकिस्‍तान में सूफी क्‍वीन के नाम से मशहूर हैं। उनके गाने यूट्यूब पर खूब सुने जाते हैं। उन्‍होंने इस फैसले के बाद अपने प्रशंसकों को धन्यवाद दिया और उम्मीद जताई कि उनके फैंस इस फैसले का सम्‍मान करेंगे। उन्‍होंने साफ कहा है कि वह शोबिज में वापस कदम नहीं रखेंगी। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, ‘लाल मेरी पत.’ और ‘दाने पे दाना.’ जैसे कई मशहूर गानों की गायिका खश्क ने कहा है कि वह अब शोबिज छोड़ रहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here