मोदी सरकार ने लॉक डाउन 5 का नाम बदला ,क्या है मतलब

0
89

केंद्र सरकार ने एक बार फिर लॉकडाउन बढ़ा दिया है। लॉकडाउन 5.0 1 जून से 30 जून तक रहेगा। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस बारे में गाइडलाइंस जारी कर दी हैं। गाइडलाइंस के मुताबिक़, कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन पूरी सख़्ती के साथ लागू रहेगा। लॉकडाउन खोलने के पहले चरण को अनलॉक-1 का नाम दिया गया है। लॉकडाउन 4.0 की मियाद 31 मई को ख़त्म हो रही है।
नई गाइडलाइंस के मुताबिक़, कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर सभी तरह की गतिविधियों को चरणबद्ध ढंग से शुरू किया जाएगा। पहले चरण में 8 जून से कंटेनमेंट ज़ोन को छोड़कर मॉल्स, होटल और रेस्तंरा खोले जा सकेंगे। धार्मिक स्थान भी 8 जून से खुलेंगे। गाइडलाइंस में कहा गया है कि अनलॉक-1 में आर्थिक गतिविधियों पर फ़ोकस रहेगा।
कंटेनमेंट जोन के अंदर सब कुछ बंद रहेगा, लेकिन कंटेनमेंट जोन के बाहर चरणबद्ध तरीके से सब कुछ खोला जाएगा।

पहले चरण में 8 जून से धार्मिक स्थल, होटल, रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल खोले जाएंगे। हालांकि, ये सब शर्तों के साथ ही खुलेंगे।

दूसरे चरण में स्कूल कॉलेज और शैक्षणिक संस्थान खुलेंगे। राज्य सरकारें स्कूलों और बच्चों के माता-पिता से बात कर के स्कूल-कॉलेज खोलने पर फैसला कर सकते हैं। अभी जुलाई महीने से स्कूलों को खोलने की कोशिश की जाएगी, जिस पर राज्य अपने विवेकानुसार फैसला ले सकते हैं। जुलाई में ये तय होगा कि स्कूल खोलने हैं या नहीं।

तीसरे चरण में अंतरराष्ट्रीय उड़ानें, मेट्रो रेल, सिनेमा हॉल, जिम, स्वीमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क, थिएटर, बार और ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल जैसी जगहें आदि को खोलने पर विचार होगा।
अनलॉक 1 में मिलेगी ये छूट

– गृह मंत्रालय की ओर से जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार अनलॉक 1 में एक से दूसरे राज्य में आवाजाही के लिए किसी भी तरह के पास की जरूरत नहीं होगी.

– मंदिर-मस्जिद-गुरुद्वारा-चर्च खोल दिए जाएंगे. अनलॉक 1 में 8 जून से रेस्टोरेंट खुल जाएंगे.- नए दिशा-निर्देशों के अनुसार, देश के सभी हिस्सों में रात को 9 बजे से सुबह 5 बजे तक अब नाइट कर्फ्यू रहेगा. हालांकि जरूरी सामान के लिए किसी भी तरह का कर्फ्यू नहीं रहेगा. अभी तक यह शाम 7 से सुबह 7 बजे तक था.

– अब अनलॉक वन के दूसरे चरण में स्कूल कॉलेज खोलने पर सरकार फैसला लेगी. राज्य सरकारों को इस फैसले के लिए अधिकृत किया गया है.

अनलॉक 1 के होंगे तीन फेज (Unlock 1 have 3 phases)

फेज 1
8 जून के बाद ये जगहें खुल सकेंगी

* धार्मिक स्थल/इबादत की जगहें.
* होटल, रेस्टोरेंट और हॉस्पिटैलिटी से जुड़ी सर्विसेस.
* शॉपिंग मॉल्स.
स्वास्थ्य मंत्रालय इसके लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर जारी करेगा, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सही तरीके से हो सके.

फेज 2

* राज्य सरकार से सलाह लेने के बाद स्कूल, कॉलेज, एजुकेशन, ट्रेनिंग और कोचिंग इंस्टिट्यूट खुल सकेंगे.
* शिक्षण संस्थानों को खोलने का फैसला राज्य सरकारें संस्थानों से जुड़े लोग और बच्चों के माता-पिता से बातचीत पर कर सकती है.
* राज्य सरकार से फीडबैक मिलने के बाद इन संस्थानों को खोलने का फैसला जुलाई में लिया जा सकता है. इसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर जारी करेगा.

फेज 3
निम्नलिखित गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए स्थिति का आंकलन करके फैसला लिया जाएगा.

* इंटरनेशनल फ्लाइट्स.
* मेट्रो रेल.
* सिनेमा हॉल, जिम, स्वीमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क, थिएटर, बार, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल और इन जैसी जगहें.
*सोशल, पॉलिटिकल, स्पोर्ट्स एंटरटेनमेंट, एकेडमिक, कल्चरल फंक्शंस, धार्मिक समारोह और बाकी बड़े जश्न पर फैसला हालातों का जायजा लेने के बाद किया जाएगा.

इधर दूसरी तरफ पंजाब ने चार हफ्ते के लिए और मध्यप्रदेश ने पंद्रह दिनों के लिए लॉक डाउन को बढ़ा दिया है ,और लॉक डाउन में उसी प्रकार पाबंदी रहेगी जैसे पहले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here