Video:यूपी पुलिस को मिला नया राफेल

0
13

लखनऊ :उत्तर प्रदेश में पुलिस अक्सर अपने अजीबो-गरीब कार्यों को लेकर चर्चा में बनी रहती है। ताजा मामला फिरोजाबाद का है, जहां पुलिस घोड़े की जगह लाठी पर सवार होकर भागे जा रही है। इस वीडियो के सामने आने के बाद सभी भौंचक्के रह गए कि आखिर पुलिस क्या दर्शाना चाह रही है। लेकिन, बाद पुलिस ने खुद स्पष्ट किया कि मॉक-ड्रिल के तहत पुलिस प्रतीकात्मक रूप से घोड़े के जरिए भीड़ को नियंत्रित कर रही है और इसमें इसमें इस्तेमाल लाठी, दरअसल घोड़े का रोल अदा कर रही है।

जानकारी के मुताबिक, सोशल मीडिया पर वायरल यह वीडियो 8 नवम्बर फिरोजाबाद का है. जहाँ पुलिस अयोध्या मामले पर आने वाले फैसले को लेकर अभ्यास कर रही थी. जिसके लिए टीयर गैस, लाठीचार्ज और बलवाइयों से निपटने के लिए घुड़सवारी तक का अभ्यास किया जाना था. इसी अभ्यास के दौरान पुलिसकर्मियों ने घुड़सवारी का अभ्यास भी किया.

हालांकि, जैसे ही सोशल मीडिया पर इस वीडियो का मजाक बनने लगा। पुलिस ने तुरंत रिस्पॉन्स करते हुए ट्वीट किया और बताया कि बलवा ड्रिल अभ्यास के दौरान दंगाइयों से निपटने के लिए घुड़सवार पुलिस द्वारा कार्रवाई की जाती है। लेकिन, जनपद में घुड़सवार पुलिस नहीं होने की वजह से इसका प्रतिकात्मक रूप से डिमॉन्सट्रेशन किया गया। लेकिन, यूजर्स ने पुलिस के इस तर्क का भी मजाक उड़ाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here