चिदंबरम की भविष्यवाणी हो सकती है पूरी ,उर्जित पटेल किसी भी समय दे सकते हैं इस्तीफा

0
10

नई दिल्ली :भारतीय रिजर्व बैंक और केंद्र सरकार के बीच चल रही तनातनी बढ़ती ही जा रही है. इस बीच, ऐसी खबरें आ रही हैं कि सरकार ने आरबीआई एक्ट के ‘सेक्शन 7’ को लागू कर दिया है. पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने रिपोर्ट्स का हवाला देकर लिखा है कि अगर सरकार ने इस सेक्शन को लागू किया है, तो आज और भी बुरी खबर आ सकती हैं.पी. चिंदबरम ने आरबीआई और सरकार के बीच पनपे तनाव को लेकर बुधवार को लगातार दो ट्वीट किए हैं. पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ” जैसे कि रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि सरकार ने आरबीआई एक्ट के सेक्शन 7 को लागू कर दिया है. जिसके तहत केंद्र की तरफ से केंद्रीय बैंक को निर्देश भेजे गए हैं.

इससे मुझे डर है कि आज और भी बुरी खबरें आएंगी.वहीँ दूसरी तरफ अब भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई और सरकार के बीच तकरार बढ़ने की वजह से ऐसी खबर है कि गवर्नर उर्जित पटेल इस्तीफा दे सकते हैं. बुधवार को टीवी चैनल्स की रिपोर्ट्स से कहा गया कि रुपये की गिरती कीमतों की वजह से सरकार के साथ रिश्तों में आई खटास के चलते उर्जित पटेल इस्तीफा दे सकते हैं. टीवी चैनल्स सीएनबीसी- टीवी 18 और ईटी नाउ की खबर के ने सूत्रों के हवावे से कहा कि उर्जित पटेल किसी भी वक्त इस्तीफा दे सकते हैं. माना जा रहा है कि अगर सरकार रिजर्व बैंक का सेक्शन 7 लागू करती है तो उर्जित पटेल इस्तीफा दे सकते हैं. रिजर्व बैंक के सेक्शन 7 के तहत सरकार को ये अधिकार है कि वो आरबीआई के गवर्नर को गंभीर और जनता के हित के मुद्दों पर काम करने के लिए निर्देश दे सकती है.केन्द्र सरकार और आरबीआई में सूत्रों के आधार पर रिपोर्ट ने दावा किया है कि आरबीआई और केन्द्र सरकार के बीच अहम अंतर पैदा हो चुके हैं. इस अंतर को अब भरा नहीं जा सकता है. ऐसी स्थिति में रिजर्व बैंक के आला अधिकारियों का दावा है कि केन्द्रीय बैंक की स्वायत्तता को ध्यान में रखते हुए उसके सामने सभी विकल्प खुले हुए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here