बिहार चुनाव:यशवंत सिन्हा ने संभाला तीसरा मोर्चा ,हो सकता है बड़ा उलटफेर

0
54

पूर्व केंद्रीय मंत्री वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने शनिवार को बिहार में एक नए राजनीतिक विकल्प की घोषणा की। उन्होंने कहा कि उनका फ्रंट बिहार विधानसभा का चुनाव लड़ेगा। उन्होंने खुद के भी चुनाव लड़ने की संकेत दिया।पटना के होटल में आयोजित प्रेस वार्ता में यशवंत सिन्हा ने कहा कि उनका फ्रंट मजबूती से चुनाव लड़ेगा। यह भविष्य बताएगा कि वे तीसरे फ्रंट हैं कि पहले फ्रंट हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बिहार में वर्चुअल रैली या वर्चुअल चुनाव अभियान संभव नहीं है। परंपरागत ढंग से ही चुनाव अभियान चलाया जाना चाहिए। चुनाव आयोग को सारे मामले पर विचार करना चाहिए।

जदयू नेता और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने बिहार के युवाओं को जोड़ने के लिए ‘बात बिहार की’ नाम से एक अभियान शुरू किया था। इसके बाद बिहार के लिए एक स्व-घोषित मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार पुष्पम प्रिया चौधरी सोशल मीडिया के माध्यम से बिहार को बदलने की मुहिम चला रही हैं। ऐसे में अनुभवी सिन्हा का बिहार विधानसभा चुनाव के लिए ताल ठोकना राज्य की राजनीति में एक दिलचस्प मोड़ लेकर आएगा। सिन्हा ने कहा कि बिहार की लड़ाई में यह एक अहम मोड़ है।
यशवंत सिन्हा ने पटना में ‘बदलो बिहार, बेहतर बिहार बनाओ’ नाम के अभियान की शुरुआत की। प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने बताया कि प्रदेश की बदहाल स्थिति को देखते हुए वे तीसरे मोर्चे का गठन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह मोर्चा प्रदेश में एनडीए और महागठबंधन का विकल्प बनेगा। हालांकि उन्होंने अभी इस बात का खुलासा नहीं किया कि इस मोर्चे में कौन-कौन शामिल हो रहा है।उन्होंने कहा कि हम आने वाले चुनाव में मिलकर लड़ेंगे। प्रदेश की हालत को बदलने व बेहतर बनाने में सरकार की भूमिका होती है। वर्तमान बदहाली के लिए सरकार जिम्मेदार है और हम मिलकर इसे हटाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश की तस्वीर बदलने के लिए 15 वर्ष का कार्यकाल किसी भी सरकार के लिए काफी होता है।

यशवंत सिन्हा ने कहा कि हम बिहार का गौरव फिर से स्थापित करने के लिए आ रहे हैं. इस मौके पर उन्होंने घोषणा की कि तीसरा मोर्चा आगामी विधानसभा चुनाव में भाग लेगा. उन्होंने बताया कि कई दिनों से अपने कुछ साथी नेताओं व बुद्धिजीवियों के साथ मिलकर उन्होंने यह किया कि हम बिहार के विकास व उसके गौरव के लिए आगे आयेंगे.हालांकि उन्होंने अभी इस बात का खुलासा नहीं किया कि इस मोर्चे में कौन-कौन शामिल हो रहे हैं। थर्ड फ्रंट के विषय पर उन्होंने कहा कि यह भविष्य तय करेगा कि हम तीसरे हैं, दूसरे हैं या पहले हैं। यशवंत सिन्हा ने यह भी कहा कि खुद चुनाव लड़ेंगे या नहीं, यह भविष्य तय करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here