पांच राज्य में हार के साथ मोदी Vs योगी की जंग शुरू

0
84

लखनऊ :उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना की तरफ से लखनऊ में कई होर्डिंग्स लगवाए गए हैं। इन होर्डिग्ंस में पीएम मोदी Vs यूपी सीएम योगी लिखा है। योगी को देश का अगला प्रधानमंत्री बनाए जाने की मांग की गई है। ये होर्डिंग्स अमित जानी की ओर से रातोंरात लगवाई गई हैं। इसमें 10 फरवरी को धर्म संसद बुलाने की बात भी कही गई है।राजधानी में उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना ने “योगी नहीं तो वोट नहीं” के नारे के साथ धर्म संसद का ऐलान किया है। जनवरी तक भाजपा को राम मंदिर और जनसंख्या नियंत्रण के लिए संसद में कानून बनाने का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि यदि राम मंदिर और जनसंख्या नियंत्रण कानून पर मौन साधा गया तो 10 फरवरी को रमाबाई अंबेडकर मैदान में पांच लाख हिन्दुओं के साथ धर्म संसद होगी, जिसमें मोदी का बहिष्कार तथा योगी का समर्थन किया जाएगा।अमित जानी ने कहा कि मोदी जी के जुमलों से देश की हिन्दू जनता तंग आ चुकी है, हिन्दुओं से धोखा हुआ है, इसी का परिणाम 5 राज्यों की पराजय है। उन्‍होंने कहा कि यदि योगी स्टार प्रचारक न होते तो पांच राज्यों में भाजपा खाता भी न खोल पाती। अब वक्त आ गया है कि जब राम मंदिर बनाने, 370 और जनसंख्या कानून जैसे मुद्दे हल करने होंगे नहीं तो मोदी 2019 में उत्तर प्रदेश में 80 में से 1 सीट की भी उम्मीद करें।

अमित जानी ने कहा कि सीएम योगी के 2 दिन पूर्व दिए बयान को समझने की जरूरत है। जिसमें उन्होंने कहा है कि, यदि राममंदिर बनाना उत्तर प्रदेश सरकार के हाथ में होता तो मैं 24 घंटे में बना देता। अमित जानी ने कहा कि यह बयान इशारा है कि, दुर्भाग्य से मंदिर बनाने का कानून वह सरकार ला सकती है जो जुमलेबाजों द्वारा संचालित की जा रही है। इशारा साफ है कि, यदि योगी, प्रधानमंत्री होते तो 24 घंटे में राममंदिर बन जाता। अमित जानी ने कहा कि हिन्दुओं की नाराजगी न भाजपा से है ना मोदी से। लेकिन जो राम का नहीं है वह किसी काम का नहीं है। अयोध्या से फैजाबाद नाम का कलंक धोकर, सदियों से वीरान पड़ी अयोध्या में दीपावली महोत्सव करके, अलविदा जुमे के दिन पड़ी होली को धूमधाम से मनवाने के लिए अलविदा जुमा की नमाज को 3 घंटे पीछे हटवाकर, कांवड़ यात्रा में डीजे पर लगा प्रतिबंध हटवाकर, इलाहाबाद नाम से धर्मनगरी को प्रयागराज में तब्दील करके, सीएम योगी ने स्पष्ट कहा दिया है कि, वह सिर्फ हिन्दुओ की बात करेंगे और हिन्दू राष्ट्र को कायम करेंगे।

अमित जानी ने कहा कि बौद्ध धर्म गुरु विराथु की भांति भविष्य में यदि भारत के हिन्दुओं को कोई कश्मीरी पंडितों की भांति मरने कटने से बचा सकता है तो वह सिर्फ योगी आदित्यनाथ हैं। बाला साहेब ठाकरे के बाद हिन्दू सम्राट का रिक्त स्थान खाली था, जिसको योगी जी ने भर दिया है। अमित जानी ने कहा कि देश भर से लाखों हिन्दू कार्यकर्ताओ और साधु संतों के साथ 10 फरवरी को लखनऊ के रमाबाई मैदान में धर्मसंसद होगी। जिसमें योगी नहीं तो वोट नहीं, का नारा देकर जुमेलबाज मोदी सरकार का बहिष्कार करके नोटा का समर्थन किया जाएगा।इस होर्डिंग के सामने आने के बाद लखनऊ पुलिस हरकत में आ गई। होर्डिंग को हटाया दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here